Top
Home > Archived > हंगामे के बीच संसद के दोनों सदनों में कार्यवाही बाधित

हंगामे के बीच संसद के दोनों सदनों में कार्यवाही बाधित

हंगामे के बीच संसद के दोनों सदनों में कार्यवाही बाधित
X

नई दिल्ली | संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही पृथक तेलंगाना राज्य के मामले पर दोपहर तक के लिए स्थगित कर दी गई। आंध्र प्रदेश के सांसदों द्वारा संयुक्त राज्य के पक्ष में नारेबाजी करने से शुरू हुए हंगामे की वजह से लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार और राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी ने अपने-अपने सदन में कार्यवाही स्थगित कर दी।
जीओएम से हरी झंडी मिलने का बाद अलग तेलंगाना का मुद्दा गुरुवार को कैबिनेट की मंजूरी के लिए लाया जाएगा। कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद इस बिल को मंजूरी के लिए संसद में लाया जाएगा। लेकिन फिलहाल जो टकराव दिख रहे हैं उससे लगता नहीं है कि संसद में इसे पारित करा पाना सरकार के लिए इतना आसान होगा।
सरकार की कोशिश है कि इसी सत्र में अलग तेलंगाना राज्य का बिल पास हो जाए, लेकिन बिल पर कई दसरे दलों के साथ−साथ उसे कुछ अपने सांसदों का विरोध भी झेलना पड़ रहा है।
इस बीच, सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की अध्यक्षता वाले मंत्री समूह ने कुछ तकनीकी एवं प्रक्रियागत बदलावों के बाद विधेयक को मंजूरी दे दी है। केंद्रीय मंत्रिमंडल के समक्ष व्यापक विधेयक लाया जाएगा और उसके सुझाव विधेयक में शामिल किए जाएंगे।
कांग्रेस ने बुधवार को भरोसा जताया कि वह सौहार्दपूर्ण तरीके से तेलंगाना के मसले को सुलझा लेगी और तेलंगाना समर्थक तथा विरोधी समूहों द्वारा संसद की कार्यवाही में बाधा डालने के बीच अलग राज्य के लिए विधेयक पारित करा लेगी। दिग्विजय सिंह और जयराम रमेश तनावपूर्ण हालात को काबू में लाने के लिए दोनों पक्षों से बातचीत कर रहे हैं और मुद्दे को सौहार्दपूर्ण तरीके से सुलझाने के लिए प्रयासरत हैं। ये नेता संसद में तेलंगाना के निर्माण से संबंधित विधेयक लाने से पहले इसकी रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए संसदीय कार्य मंत्री कमलनाथ से भी संपर्क में हैं।

Updated : 2014-02-06T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top