Home > Archived > उत्तर कोरिया में मानवाधिकार उल्लंघन चिंताजनक: बान

उत्तर कोरिया में मानवाधिकार उल्लंघन चिंताजनक: बान

न्यूयॉर्क | उत्तर कोरिया में मानवाधिकार उल्लघंन पर जारी की गई एक रिपोर्ट के तथ्य हैरान करने वाले हैं। उत्तर कोरिया पर कमीशन ऑफ इन्कावयरी(सीओआई) द्वारा संकलित विस्तृत और व्यापक रिपोर्ट में प्योंगयांग के मानवाधिकार, हत्या का विवरण, दासता, यातना, कारावास, बलात्कार, जबरन गर्भपात और अन्य यौन संबंधी हिंसाओं का रिकॉर्ड अत्यंत खराब रहा है।
इस रिपोर्ट को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र के एक अनिवार्य जांच में उत्तर कोरिया में ‘गंभीर’ मानवाधिकार उल्लंघन का मामला पाए जाने को लेकर वह ‘गंभीर रूप से परेशान’ हैं।
महासचिव ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इस रिपोर्ट से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जागरूकता पैदा होगी। देश के औपचारिक नाम का इस्तेमाल करते हुए एक बयान में उन्होंने कहा कि डेमोक्रेटिक पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ कोरिया (डीपीआरके) में मानवाधिकार और मानवीय स्थिति के बारे में गंभीरता को लेकर उनकी चिंताएं बनी हुई है।
बान ने आगे कहा कि डीपीआरके में मानवाधिकार को लेकर हुई जांच में आयोग द्वारा प्राप्त निष्कर्ष को लेकर वह गंभीर रूप से परेशान हैं।

Updated : 2014-02-19T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top