Latest News
Home > Archived > भारत-पाक सीमा के दर्शन कर लौटे यात्री

भारत-पाक सीमा के दर्शन कर लौटे यात्री

माँ तुझे प्रणाम योजना के तहत श्योपुर से गए थे छह यात्री


श्योपुर । मध्यप्रदेश सरकार द्वारा भारत के शहीदों एवं प्रमुख शहीदी स्थलों के दर्शनों के लिए शुरू की गई माँ तुझे प्रणाम योजना के तहत श्योपुर जिले से रवाना हुए यात्रीदल ने गुरुवार को वापिसी की। इस दौरान इस जत्थे का जोरदारी के साथ श्योपुरवासियों एवं समाजसेवियों ने फूल मालाओं के साथ स्वागत किया। इस मौके पर इस यात्रीदल द्वारा शहीदों के स्थल से लाई गई मिट्टी से सभी लोगों का मंगल तिलक भी किया।
मिली जानकारी के अनुसार गत 28 नवम्बर को श्योपुर से रवाना हुए महेश परिहार, राजेश कुमार मीणा, लोकेश राय, भवानी प्रसाद माहौर, दीपेश माहौर, सोनू शर्मा आदि रवाना हुए थे। जिन्हें देश के प्रसिद्ध शहीद स्थल लोंगेवाला के दर्शन कराए गए जहां से मिट्टी भी उठाई गई। इसके बाद भारत-पाक सीमा पर विशेष परेड के दर्शन कराए गए। इसके पश्चात यह दल तनोट माता मंदिर पर पहुंचा जहां का पूरा जिम्मा भारत सुरक्षा बल (बीएसएफ) द्वारा सम्हाला गया। यहां की मान्यता है कि सन 1965 में हुए आक्रमण में इस मंदिर पर कई सारे तोप के गोले बरसाए गए लेकिन इस मंदिर पर माता की असीम कृपा के चलते यहां कोई गोला नहीं फटा और आज भी यहां वे जिंदा तोप के गोले सुरक्षित रखे हुए हैं। वहीं घटियाली माता मंदिर की भी मान्यता है कि यहां 1971 में हुए हमले में आतंकवादियों के हमले में मंदिर को कोई क्षति नहीं पहुंची। वहीं इस जत्थे को जैसलमेर का किले का भी भ्रमण कराया गया। गुरुवार 4 दिसम्बर को श्योपुर लौटे यात्री जत्थे ने बताया कि यात्रा बेहद सफल और सार्थक रही तथा शासन के इस तरह के आयोजन युवाओं में प्रेरणा का संचार करेगी। इस मौके पर वरिष्ठ समाजसेवी मुन्नालाल गुप्ता, उमेश सक्सेना, लक्ष्मण परिहार, बाबूलाल मीणा, गिर्राज किशोर शर्मा, संजय सिंह सहित बड़ी संख्या में श्योपुर के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Updated : 2014-12-06T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top