Top
Home > Archived > सीटी स्केन जांच में विद्युत कनेक्शन बना रोड़ा

सीटी स्केन जांच में विद्युत कनेक्शन बना रोड़ा

ग्वालियर। जयारोग्य अस्पताल में करोड़ों रुपए खर्च कर मंगाई गई सीटी स्केन मशीन अभी मरीजों की जांच नहीं कर पाएगी। क्योंकि अब इसमें विद्युत कनेक्शन का ना होना रोड़ा बन गया है। उल्लेखनीय है कि जयारोग्य अस्पताल में भी सीटी स्केन एवं एमआरआई की जांच होना चाहिए इसके लिए दो वर्ष पूर्व एक जनहित याचिका दायर की गई थी। इसके बाद सिर्फ सीटी स्केन मशीन आ सकी है जबकि एमआरआई मशीन का अब भी कुछ अता पता ही नहीं है। वहीं सीटी स्केन मशीन भी चालू करने में प्रबन्धन को पसीने छूट रहे हंै क्योंकि मशीन को चालू करने के लिए अभी बुनियादी व्यवस्थाएं ही नहीं हैं। इसके चलते एक बार फिर से सीटी स्केन मशीन चालू होने की तिथि को आगे बढ़ा दिया गया है। फिलहाल तो मशीन को चालू करने के लिए एक विद्युत सब स्टेशन की आवश्यकता है जो अभी तक अस्तित्व में ही नहीं है। अभी तो सबसे पहले लोक निर्माण विभाग द्वारा विद्युत सब स्टेशन का निर्माण किया जाएगा। इसके बाद मप्र विद्युत बोर्ड द्वारा विद्युत सब स्टेशन प्रारम्भ किया जाएगा।
अब लोनिवि एवं मप्र विद्युत बोर्ड के पाले में गेंद
जयारोग्य अस्पताल में स्वयं की सीटी स्केन मशीन को लगाने के लिए जनहित याचिका के आधार पर जब जानकारी मांगी जाती है तो अस्पताल प्रबन्धन असमर्थता प्रकट करते हुए और समय की मांग करता है। लेकिन अब विद्युत सब स्टेशन का जिम्मा लोक निर्माण विभाग एवं मप्र विद्युत बोर्ड के कन्धों पर है। इस कारण इस बार इन दोनों विभागों को भी न्यायालय में उपस्थित होकर अपने काम पूर्ण करने की जानकारी देनी होगी।
''विद्युत कनेक्शन न होने के कारण सीटी स्केन मशीन चालू होने में थोड़ा समय और लग सकता है। विद्युत कनेक्शन होते ही इसके चालू होने की तिथि घोषित कर दी जाएगी।''
डॉ.जी.एस.पटेल
अधिष्ठाता, गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय

Updated : 2014-12-12T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top