Top
Home > Archived > सांसद ने किया आदर्श गांव का चयन

सांसद ने किया आदर्श गांव का चयन

भिण्ड। आदर्श ग्राम योजना के तहत सांसद डॉ भागीरथ प्रसाद ने जनपद मेहगांव अंतर्गत सोनी गांव का चयन किया है। इस संबंध में आज डॉ. भागीरथ प्रसाद ने जिलाधीश मधुकर आग्नेय से चर्चा की। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी बी.एल. अहिरवार, संयुक्त कलेक्टर अनुज रोहतगी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सांसद आदर्श ग्राम योजना प्रारंभ की गई है। इसके अन्तर्गत ग्राम सोनी का चयन कर सर्वे कराया जा रहा है। सर्वे में निम्न बिन्दुओं को समाहित किया जाएगा। इसमें प्राथमिक विद्यालयों की संख्या, 15 वर्ष से कम आयु बच्चों की संख्या, विद्यालय जाने वाले 15 वर्ष से कम आयु के बच्चों की संख्या, विद्यालय छोडऩे वाले 15 वर्ष से कम आयु के बच्चे, महिला साक्षरता, आंगनबाड़ी की संख्या, कस्तूरबा गांधी बाल विद्यालयों की संख्या, प्राथमिक विद्यालयों में अध्यापक-विद्यार्थी का अनुपात, स्वास्थ केन्द्रों की संख्या, दर्ज संस्थागत सेवाओं की संख्या, मरीजों व चिकित्सकों का अनुपात, पुस्तकालयों की संख्या, कुपोषित बच्चों की संख्या, रक्ताल्पता से ग्रस्त महिलाओं की संख्या, रक्त अल्पता से ग्रस्त बच्चों की संख्या, आईएमआर, एमएमआर, भारत निर्माण स्वयं सेवकों की संख्या, अपराधों की संख्या, पुलिस थानों की संख्या, पंजीकृत एफ.आई.आर की संख्या, शौचालय वाले परिवारों की संख्या, बिना शौचालय वाले परिवारों की संख्या, पेड़ों की संख्या, गरीबी रेखा अंतर्गत परिवारों की संख्या, अनुसूचित जाति परिवारों की संख्या, अनुसूचित जनजाति परिवारों की संख्या, विकलांग व्यक्तियों द्वारा संचालित परिवारों की संख्या, स्वयं-सहायता समूह की संख्या, बैंक खाताधारकों की संख्या, बैंक शाखाओं से दूरी, डाकघर से दूरी, गांवों में एटीएम, कृषियोग्य भूमि का क्षेत्र, सिंचाई भूमि का क्षेत्र, गैर-सिंचाई भमि का क्षेत्र, सार्वजनिक भूमि का क्षेत्र, ग्रामसभा में परती भूमि का क्षेत्र, ग्राम पंचायत में श्रेणीवार पशुधन, ग्राम पंचायत में उत्पादन का ब्यौरा, कृषि, पशुपालन, ग्रामोद्योग, जल निकायों की संख्या, कार्यात्मक जल निकायों से 2 किमी तक की दूरी वाले क्षेत्र आदि बिंदुओं को शामिल किया गया है।
इसी तरह मनरेगा के अंतर्गत सक्रिय जॉब कार्डधारकों की संख्या, 100 दिनों का कार्य पूरा करने वाले सक्रिय जॉब कार्डधारकों की संख्या, खाद्य संग्रहण सुविधाओं की संख्या, डेयरी प्रोसेसिंग यूनिट की संख्या, पेयजल व्यवस्था, बिना बिजली कनेक्शन वाले परिवारों की संख्या, ग्राम पंचायत में आंगनबाड़ी की संख्या, ग्राम पंचायत में उचित दर की दुकान आदि बिन्दुओं पर सर्वे कराया जा रहा है। 

Updated : 2014-11-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top