Top
Home > Archived > तिमाही परिणाम पर रहेगी निवेशकों की नजर

तिमाही परिणाम पर रहेगी निवेशकों की नजर

तिमाही परिणाम पर रहेगी निवेशकों की नजर
X

मुंबई | देश के शेयर बाजारों में अगले सप्ताह निवेशकों की निगाह देश की कंपनियों द्वारा जारी होने वाले मौजूदा कारोबारी साल की दूसरी तिमाही के परिणामों पर टिकी रहेगी। शेयर बाजार अगले सप्ताह मंगलवार, चार नवंबर को मुहर्रम के अवसर पर और गुरुवार, छह नवंबर को गुरु नानक जयंती के अवसर पर बंद रहेंगे।
आगामी सप्ताह में विदेशी संस्थागत निवेश के आंकड़ों, वैश्विक बाजारों के रुझान, डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल और तेल के मूल्य पर भी निवेशकों की नजर बनी रहेगी।
मौजूदा कारोबारी साल की दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर) के लिए कंपनियों के वित्तीय परिणाम का दौर जारी है। परिणाम जारी करने का यह दौर मध्य नवंबर तक चलेगा।
सोमवार को डाबर इंडिया और मोंसैंटो इंडिया, मंगलवार को बर्जर पेंट्स इंडिया और पिडिलाइट इंडस्ट्रीज, बुधवार को बाटा इंडिया, एस्कोर्ट्स, एनडीटीवी और टाटा ग्लोबल बेवरेजेज, गुरुवार को अशोक लीलैंड, अरविंदो फार्मा और ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन फार्माश्यूटिकल्स और शुक्रवार को एस्सार ऑयल, जेट एयरवेज, लार्सन एंड टुब्रो, एमएमटीसी, एसजेवीएन, सिंडिकेट बैंक और यूको बैंक अपने कारोबारी परिणामों की घोषणा करेंगी।
आर्थिक आंकड़ों में सोमवार तीन नवंबर को एचएसबीसी मैन्यूफैक्च रिंग पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई) के अक्टूबर महीने के आंकड़े जारी होंगे। भारत के लिए पीएमआई अगस्त महीने के 52.4 से घटकर सितंबर में 51.0 दर्ज की गई।
पीएमआई के 50 से अधिक रहने का मतलब कारोबारी क्षेत्र में विस्तार और कम रहने का मतलब संकुचन होता है।
बुधवार पांच नवंबर को अक्टूबर महीने के लिए एचएसबीसी सर्विसेज पीएमआई के आंकड़े जारी होंगे। एचएसबीसी सर्विसेज पीएमआई अगस्त महीने के 50.6 से बढ़कर सितंबर में 51.6 दर्ज की गई थी।
गुरुवार, छह नवंबर को यूरोपीय केंद्रीय बैंक (ईसीबी) और बैंक ऑफ इंग्लैंड (बीओई) ब्याज दर से संबंधित फैसला लेंगे।

Updated : 2014-11-02T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top