Top
Home > Archived > दिल्ली दुष्कर्म मामले में 22 अगस्त से होगी अंतिम जिरह

दिल्ली दुष्कर्म मामले में 22 अगस्त से होगी अंतिम जिरह

दिल्ली दुष्कर्म  मामले में 22 अगस्त से होगी अंतिम जिरह
X

नई दिल्ली | राजधानी दिल्ली में पिछले वर्ष 16 दिसंबर को एक चलती बस में हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में एक त्वरित अदालत में अंतिम जिरह 22 अगस्त से शुरू होगी। न्यायालय ने मामले में दो आरोपियों को अपने बचाव में अतिरिक्त गवाहों को पेश करने की इजाजत भी दी है।
अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश योगेश खन्ना ने आरोपी विनय शर्मा और पवन गुप्ता के वकील को अपने मुवक्किल के बचाव में सोमवार तक सारे सुबूत पेश करने का निर्देश दिया। न्यायालय ने आरोपियों को और अधिक अवसर न दिए जाने की बात कही।
न्यायालय ने कहा, "मैं गुरुवार, 22 अगस्त को अंतिम जिरह की तारीख तय करता हूं, इसलिए आप (आरोपी) इससे पहले अपने सारे सुबूत पेश कर दें।" शर्मा ने एक आवेदन देकर न्यायालय से तीन नए गवाहों को पेश करने की इजाजत मांगी है, ताकि वह यह साबित कर सके कि अभियोजन पक्ष के गवाह सिखाए-पढ़ाए हुए हैं। न्यायालय ने उसे दो गवाह पेश करने की इजाजत दे दी है। गुप्ता ने भी अदालत से एक नया गवाह पेश करने की इजाजत मांगी थी।
न्यायालय ने हालांकि बचाव पक्ष के गवाहों के बयानों की रिकॉर्डिग पूरी कर ली है, इसके बावजूद न्यायालय ने कहा कि न्याय के लिए तथा निष्पक्ष सुनवाई के लिए आरोपियों को एक अंतिम अवसर दिया जाना चाहिए। अदालत ने अब तक अभियोजन पक्ष की तरफ से 85 गवाहों के बयान दर्ज किए हैं। इसी मामले में आरोपी नाबालिग के मामले की सुनवाई किशोर न्याय अदालत में की जा रही है, जबकि चार अन्य आरोपियों की सुनवाई त्वरित अदालत में हो रही है। आरोपियों में से एक ने तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत के दौरान कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी।






Updated : 2013-08-18T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top