Top
Home > Archived > सिंधुरक्षक पनडुव्बी में विस्फोट, नौसैनिकों के मरने की आशंका

सिंधुरक्षक पनडुव्बी में विस्फोट, नौसैनिकों के मरने की आशंका

सिंधुरक्षक पनडुव्बी में विस्फोट, नौसैनिकों के मरने की आशंका
X

नई दिल्ली | मुंबई के कुलाबा में मौजूद लाइन गेट नेवल डॉकयार्ड में तैनात भारतीय नौसेना की पनडुब्बी सिंधुरक्षक में मंगलवार रात करीब 12 बजे आग लग गई। इस हादसे के दौरान नेवल डॉकयार्ड में अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया। आग इतनी भयंकर थी कि सिंधुरक्षक पनडुब्बी के बगल में ही एक और पनडुब्बी में भी आग लग गई। हादसे के बाद डेढ़ घंटे की मेहनत के बाद आग पर काबू पाया गया।
सूत्रों के मुताबिक नौसेना प्रमुख एडमिरल डी. के. जोशी मुंबई में घटनास्थल का जायजा लेने के लिए बुधवार को घटनास्थल पहुंचेंगे। दुर्घटनाग्रस्त पनडुब्बी में 18 नौसैनिकों के मरने की आशंका है।
इससे पहले नौसेना के एक प्रवक्ता ने पुष्टि की थी कि मुंबई में नौसेना के पोतगाह पर भारतीय नौसेना की एक पनडुब्बी में आग लगने की सूचना मिली है। आग बुझाने के लिए नौसेना के और सरकारी दमकलकर्मियों को घटनास्थल पर भेजा गया। विस्फोट एवं आग लगने के कारणों तथा नौसेना की संपत्ति को हुए नुकसान के बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली है। बताया जा रहा है कि धमाका आईएनएस सिंधुरक्षक पनडुब्बी में आग लगने के बाद धमाका हुआ। हादसे के वक्त पनडुब्बियों में सवार 18 लोगों को लापता घोषित कर दिया गया है. हालांकि कुछ लोगों के आग लगने के तुरंत बाद समुद्र में कूदने की भी खबर है।
गौरतलब है कि पनडुब्बी में आग की खबर मिलते ही वहां दर्जनभर से ज्यादा दमकल की गाड़ियां पहुंच गई। आग का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पूरे डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। हालांकि इस हादसे में अच्छी बात ये रही कि किसी की भी जान का नुकसान नहीं हुआ। लेकिन दोनों पनडुब्बियां काफी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। वहीं इस हादसे में जो नौसेना के जवान घायल हुए थे उन्हें नौसेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनका इलाज चल रहा है। आग किस वजह से लगी और इस घटना में कहां चूक हुई नौसेना इसकी जांच में जुट गई है। 15 अगस्त से ठीक पहले पनडुब्बी में लगी आग की इस घटना ने नौसेना को काफी चौकन्ना कर दिया है। जिसके बाद नौसेना ने बॉम्बे कोस्ट गार्ड को अलर्ट पर रख दिया है। वहीं हादसे के बाद पूरे इलाके को एहतियातन बंद कर दिया गया है।

Updated : 2013-08-14T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top