Top
Home > Archived > हास-परिहास

हास-परिहास

एक बार संता ने ई-बैंकिंग के लिए पासवर्ड बनाया ।
वह था- राम, सीता, लक्ष्मण, हनुमान, रावण, दिल्ली, स्पाइडरमैन ।
बंता ने पूछा - यार! इतना लंबा पासवर्ड?
संता बोला - क्या करूं यार बैंक वाले कहते है कि पासवर्ड में पांच कैरेक्टर, एक कैपिटल और एक स्पेशल कैरेक्टर होना जरूरी है ।

लड़के को एग्जाम में मिला 0।
पापा ने गुस्से से कहा :- यह क्या है??
लड़का :- टीचर के पास स्टार्स खत्म हो गए थे, तो उन्होंने प्लैनेट बनाने शुरू कर दिए!

बंता :- पिछली दिवाली को हमने रात को लक्ष्मी के लिये दरवाजे खोल कर रखे थे पर चोर आ गए!
संता :- हो सकता है चोर अपने घर के दरवाजों के साथ खिड़कियाँ भी खोल कर आये हो इसलिये तुम्हारे घर की लक्ष्मी उनके यहाँ चली गई।

बनिए की पत्नी बीमार थी, लाइट न होने की वजह से उसने कैंडल जला दी और बोला :- डॉक्टर को लेने जा रहा हूँ, अगर तुम्हे लगे की तुम नहीं बचोगी तो प्लीज कैंडल बुझा देना।

मां :- बेटा, मेरा हाथ जल गया है। जरा टूथपेस्ट लेकर आना...
पप्पू :- नहीं मां...
मां :- पर क्यों?
मेरे टूथपेस्ट में नमक है। दुनिया वाले कहेंगे कि बेटे ने मां के जले पर नमक छिड़क दिया!

भिखारी कार में बैठी एक आंटी से :- मेमसाब भगवान के नाम पर 100 रुपए देदो..
आंटी पैसे देने के बाद बोलीं- अब दुआ तो देते जाओ।
भिखारी :- मेमसाब कार में तो बैठी हो, अब क्या रॉकेट पर बैठेंगी? 

Updated : 2013-07-28T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top