Latest News
Home > Archived > भारत की नजरें सीरीज़ जीतने पर

भारत की नजरें सीरीज़ जीतने पर

हरारे | जिम्बाब्वे के खिलाफ तीसरे वनडे क्रिकेट मैच के जरिये भारत पांच मैचों की सीरीज़ में विजयी बढ़त लेने के इरादे से उतरेगा। भारत ने अपने युवा बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर सीरीज़ में 2-0 से बढ़त बना ली है। वहीं पिछले दोनों मैचों में 200 से अधिक रन बनाकर जिम्बाब्वे ने भारतीय गेंदबाजों के लिए खतरे की घंटे बजा दी है। भारत के लिए गेंदबाजों का औसत प्रदर्शन चिंता का विषय बना हुआ है।
आर विनय कुमार ने 18 ओवर में 106 रन दिए जबकि उन्हें सिर्फ एक ही विकेट मिल सका है। मोहम्मद शमी भी प्रभावित नहीं कर सके। भारत ने इस सीरीज़ के लिए अपने प्रमुख गेंदबाजों को आराम दिया है।
जयदेव उनादकट ने दो मैचों में पांच विकेट लिए हैं। वहीं रविंद्र जडेजा ने किफायती गेंदबाजी की। भारत के भावी कप्तान माने जा रहे विराट कोहली और शानदार फॉर्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन एक-एक शतक बना चुके हैं। अंबाती रायुडू और दिनेश कार्तिक ने भी अर्धशतक बनाया है। रोहित शर्मा और सुरेश रैना हालांकि नाकाम रहे।
भारतीय खेमा दुआ कर रहा होगा कि भारतीय बल्लेबाजी की ताकत बने ये दोनों बल्लेबाज जल्दी फॉर्म में लौटें। भारत के लिए यह भी अच्छा होगा कि युवा कप्तान कोहली अपने गुस्से पर काबू रखें। आउट होने के बाद लगातार अधिकारियों से उलझने वाले कोहली अपनी छवि खराब कर रहे हैं। वह नियमित कप्तान महेंद्र सिंह धौनी से सबक ले सकते हैं जो दबाव के हालात में भी शांतचित्त रहते हैं और यही उनकी सफलता का राज भी है। भारत को अपने गेंदबाजों से भी बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। सलामी बल्लेबाज वुसी सिबांडा से लेकर निचले क्रम में प्रोस्पर उत्सेया तक सभी ने भारतीय आक्रमण का सहजता से सामना किया है। भारत सीरीज़ जीतने के बाद दूसरे खिलाड़ियों को मौका देना चाहेगा। भारत अगर रविवार को 3-0 से बढ़त बना लेता है तो चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे के अलावा जम्मू कश्मीर के हरफनमौला परवेज रसूल को भी बाकी दो मैचों में मौका मिल सकता है।

Updated : 2013-07-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top