Top
Home > Archived > सागरताल में मिले पिता-पुत्र के शव, तीन दिन से थे लापता

सागरताल में मिले पिता-पुत्र के शव, तीन दिन से थे लापता

सागरताल में मिले पिता-पुत्र के शव, तीन दिन से थे लापता
X

ग्वालियर | पत्नी से हुए मामूली विवाद के बाद एक युवक ने अपने दो वर्षीय बेटे के साथ सागरताल में छलांग लगा दी। तीन दिन से गायब इन दोनों के शव मंगलवार की सुबह सागरताल में तैरते मिले। सूचना मिलते ही पुलिस व दमकल दस्ता मौके पर पहुंचा और शवों को बाहर निकाला।
जानकारी के अनुसार बहोड़ापुर पुलिस को मंगलवार की सुबह सूचना मिली कि सागरताल में किसी का शव तैर रहा है। सूचना पर तुरंत पुलिस व दमकल दस्ता मौके पर पहुंच गया। यहां पुलिस को एक युवक के साथ एक बच्चे का शव भी मिला। शवों की पहचान दीपू उर्फ घंटोली (30) पुत्र मुरली राठौर निवासी गोसपुरा नं. 1 व उसके दो वर्षीय पुत्र नैतिक के रूप में हुई। बताया गया है कि दीपू का 4 मई को अपनी पत्नी से खाना बनाने को लेकर विवाद हुआ था। इसके बाद वह अपने बेटे नैतिक को लेकर घर से चला गया। नैतिक के नहीं लौटने पर परिजनों ने ग्वालियर थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। बताया गया है युवक ने आत्महत्या की है। मृतक की नैतिक के अलावा दो बेटियां अंजली (9) व क्रांति (5)वर्ष भी हैं।

शराब के नशे का आदी था मृतक
बताया गया है कि मृतक दीपू राठौर शराब के नशे का आदी था और चार मई को जब वह आया था तब भी उसने शराब पी रखी थी। घर आते ही उसने खाना मांगा उस समय खाना नहीं बना था इसे लेकर पति-पत्नी में विवाद हो गया और नाराज होकर वह बेटे को लेकर घर से चला गया था।
कहीं हत्या तो नहीं हुई
वहीं मृतक के भाई सरजू प्रसाद ने बताया कि कुछ लोगों ने उसे 5 मई को कैथ की बगिया में अकेला देखा था। ऐसा माना जा रहा है कि उसने एक-दो दिन पहले ही आत्महत्या की है। बहोड़ापुर थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को शव विच्छेदन गृह भेज दिया।



Updated : 2013-05-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top