Top
Home > Archived > सोनिया गांधी नरम दिल हैं, लेकिन मैं नहीं: राहुल

सोनिया गांधी नरम दिल हैं, लेकिन मैं नहीं: राहुल

सोनिया गांधी नरम दिल हैं, लेकिन मैं नहीं: राहुल

नई दिल्ली | कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली में कांग्रेस नेताओं से आगामी विधानसभा चुनाव में लगातार चौथी बार पार्टी की विजय को सुनिश्चित करने के लिए मिलजुल कर काम करने को कहा और साथ ही यह स्पष्ट संदेश दिया कि अनुशासनहीनता को कतई बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। उन्‍होंने नेताओं को हिदायत देते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष (सोनिया गांधी) नरम दिल हैं, पर मैं नरम नहीं हूं।
राहुल ने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी (डीपीसीसी) के कार्यालय में करीब पांच घंटे तक अलग अलग समूहों में कांग्रेस कार्यकताओं से बातचीत की। उन्होंने पार्टी के सांसदों, विधायकों तथा अन्य वरिष्ठ नेताओं से विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू करने को कहा और साथ ही पार्टी और सरकार के बीच बेहतर समन्वय की आवश्यकता पर जोर दिया। दिल्ली में इस साल नवंबर व दिसंबर में विधानसभा चुनाव होने हैं।
राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष नरम दिल हैं, लेकिन मैं नरम नहीं हूं। मैं अनुशासनहीनता बर्दाश्‍त नहीं करूंगा। हमें मिलजुल कर काम करना है। नई दिल्ली से पार्टी सांसद और केन्द्रीय मंत्री अजय माकन ने कहा कि राहुल गांधी ने हम सब से मिलजुल कर काम करने और विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट जाने को कहा है। कपिल सिब्बल ने बताया कि राहुल राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकताओं से पार्टी को जमीनी स्तर पर और मजबूत बनाने का आह्वान किया। बैठक में मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और उनके मंत्रिमंडल के तमाम सहयोगियों ने भी हिस्सा लिया। 

Updated : 2013-05-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top