Top
Home > Archived > हिन्दू जागेगा, तो देश जागेगा

हिन्दू जागेगा, तो देश जागेगा

हिन्दू जागेगा, तो देश जागेगा

ग्वालियर | हिन्दू जागेगा, तो देश जागेगा, भारत माता की जय, जय-जय श्रीराम, जय भारत, भारत में रहना है, तो वंदे मातरम कहना होगा जैसे गगनभेदी राष्ट्रवादी नारों के साथ मंगलवार को हजारों की संख्या में हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ता पुलिस की हिन्दू विरोधी नीतियों के विरोध में सड़कों पर उतर आए। हिन्दू संगठनों के हजारों कार्यकर्ताओं ने एकत्रित होकर हिन्दुओं की एकता, अखण्डता को प्रदर्शित करते हुए आक्रोश रैली निकाली और पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर कार्यालय का घेराव किया। विरोध रैली में शामिल लोगों ने पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन भी सौंपा, जिसमें हनुमान जयंती के उपलक्ष्य में निकाले गए धार्मिक चल समारोह पर हमला करने वाले मुस्लिम समुदाय के लोगों पर कार्रवाई करने सहित अन्य मांगें पुलिस अधीक्षक के समक्ष रखी गईं।
विगत 25 अपै्रल को हनुमान जयंती के उपलक्ष्य में बजरंग दल द्वारा निकाले गए धार्मिल चल समारोह पर आपागंज में मुस्लिम समाज द्वारा किए गए हमले एवं पुलिस व प्रशासन द्वारा हमला करने वालों का सहयोग करने के विरोध में हिन्दू संयुक्त मोर्चा के तत्वावधान में हजारों कार्यकर्ताओं ने आक्रोश रैली निकालकर हिन्दू विरोधी नीतियों का विरोध किया। हिन्दू विरोधी नीतियों के विरोध में रैली में शामिल हर कार्यकर्ता आक्रोशित दिख रहा था।
आक्रोश रैली राजमाता विजयाराजे सिंधिया चौक से प्रात: 10 बजे प्रारंभ हुई। रैली में शामिल होने के लिए हिन्दूवादी संगठनों के कार्यकर्ता एक घण्टा पूर्व से ही वहां एकत्रित होना प्रारंभ हो गए थे। ठीक 10 बजे रैली शुरू हुई, जिसमें हजारों हिन्दूवादी संगठनों के कार्यकर्ता शामिल थे। हिन्दू धर्म पताका को लहराते हुए कार्यकर्ता भारत मां की जय आदि गगनभेदी नारे लगाते हुए चल रहे थे। विरोध रैली पुलिस अधीक्षक कार्यालय तक निकाली गई। पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर कार्यकर्ताओं ने पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह को पांच सूत्रीय ज्ञापन सौंपा। इस पर पुलिस अधीक्षक श्री सिंह ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।
आक्रोश रैली में विनोद सूरी, मदनलाल माहेश्वरी, डॉ. रविन्द्र भदौरिया, पप्पू वर्मा, डॉ. जयवीर भारद्वाज, स्वामी गिरि जी महाराज, नीतेश शर्मा, सतीश सिकरवार, वीरेन्द्र सिंह कुशवाह, अभय चौधरी, देवी सिंह कौरव, सुशील जैन, आदेश बंसल, मुकेश अग्रवाल, कमल माखीजानी, बसंत गोडयाले, राजेश कुशवाह, अर्जुन परमार, प्रकाश तोमर, हरिदास अग्रवाल, रामबाबू सेन, पंजाब सिंह यादव, राम भारती, पं. रामाधार शर्मा, अशोक दीक्षित, अमित जादौन, राजू पलैया, मनोज तोमर, महेन्द्र यादव, अशोक बांदिल, आशा सिंह, प्रमिला वाजपेई, अर्चना सिकरवार, सुमन शर्मा, मीना सचान, विजया तोमर, गीता भदौरिया, रामवती गुप्ता, अभय जादौन, मुकेश गुप्ता, बृजमोहन श्रीवास्तव, लालू भदौरिया, मनोज गोडिया, मनोज रजक, संजय अग्रवाल, पप्पू राठौर, मनोज भारद्वाज, उदयभान रजक, विनोद बघेल, रविराज लुढ़ेले, कृष्णकुमार रावत, विपिन झा, नीरज उचिया, भरत पाठक, रिंकू भदौरिया, अजय श्रीवास्तव, विष्णु शर्मा, विमला मिश्रा, रेखा त्रिपाठी, सरिता बघेल, मिथलेश, हरीश रजक, विजय कन्नौजिया, राजीव शाक्य, मुकेश दुबे, गोविन्द भार्गव, संतोष राठौर, अशोक चौहान, दीपक तोमर सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे। 

Updated : 2013-05-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top