Top
Home > Archived > हर व्यक्ति तक पहुंचना है स्टेट बैंक का लक्ष्य

हर व्यक्ति तक पहुंचना है स्टेट बैंक का लक्ष्य

हर व्यक्ति तक पहुंचना है स्टेट बैंक का लक्ष्य
X

ग्वालियर | ग्रामीण और निम्न वर्ग की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए भारतीय स्टेट बैंक द्वारा अगले तीन वर्ष में अपने कियोस्क की संख्या बढ़ाकर 2000 करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। फिलहाल इनकी संख्या 625 है।यह जानकारी संवाददाताओं को देते हुए बैंक के उपमहाप्रबंधक अनिल गुप्ता ने बताया कि 1500 कियोस्क और स्थापित किए जाएंगे। इनमें इनमें ग्रामीण और गरीब वर्ग के लोग जीरो बैलेंस पर अपना खाता खोल सकते हैं। यह सातों दिन सुबह 8 से रात्रि 8 बजे तक खुले रहेंगे। वर्तमान में कुल 625 कियोस्क काम कर रहे हैं। इनमें से शहर में 25 एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 600 कियोस्क संचालित हैं। श्री गुप्ता ने कहा कि सरकार द्वारा जो सब्सिडी दी जाती है, वह कियोस्क के माध्यम से लोगों तक सीधे पहुंच सकेगी। श्री गुप्ता ने बताया कि भारतीय स्टेट बैंक की वित्तीय वर्ष 2012-13 की ग्रोथ 1550 करोड़ एवं एडवांस 730 करोड़ रुपए है। इसे अगले वित्तीय वर्ष में तीन हजार करोड़ तक ले जाने का लक्ष्य है। यह ग्वालियर मॉडल के लिए एक रिकॉर्ड है। इतनी बढ़त पहले कभी नहीं हुई थी। श्री गुप्ता ने बताया कि इनमें से शहर में शीघ्र ही 9 और एटीएम खोले जाने हैं। स्टेट बैंक के 2200 गृह ऋण, 8800 कार ऋण, 7 हजार शिक्षा ऋण संचालित हैं। अन्य बैकों की तुलना में ब्याज की राशि भी काफी कम है। बैंक अपने उपभोक्ताओं को आसान शर्तों पर ऋण उपलब्ध करा रहा है। भारतीय स्टेट बैंक की किसी से कोई प्रतियोगिता नहीं है। समाज सेवा के माध्यम से भारतीय स्टेट बैंक ग्वालियर के हर व्यक्ति तक पहुंचना चाहता है। उन्होंने बताया कि बैंक द्वारा विभिन्न स्कूलों को 525 वाटर प्यूरी फायर एवं 2500 पंखे प्रदान किए गए हंै। ग्वालियर में फिलहाल एक कियोस्क काम कर रहा है। जहां सैंकड़ों की संख्या में लोग खाता खुलवा रहे हैं। पत्रकार वार्ता में ग्वालियर एवं दतिया के रीजनल मैंनेजर किशोर गजपाल, एजीएम प्रबोध दवे, आर. के. श्रीवास्तव, रविन्द्र मिश्रा, राघवेन्द्र जी, डी.के. मित्तल एवं मुख्य प्रबंधक अंबिकेश दीक्षित सहित कई अधिकारी उपस्थित थे।
क्या है कियोस्क
कियोस्क में जीरो बैंलेंस पर आसानी से खाता खुलवाया जा सकता है। इसके लिए ग्राहक को पहचान पत्र के रूप में फोटो युक्त एक कार्ड उपलब्ध कराया जाता है, जो पास बुक की तरह काम करता है। इसके माध्यम से व्यक्ति अपनी दिनभर की कमाई या बचत को कियोस्क में जमा कर सकता है और जब चाहे निकाल सकता है। 

Updated : 2013-04-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top