Top
Home > Archived > हर हाथ को मिलेगा काम: मिश्र

हर हाथ को मिलेगा काम: मिश्र

हर हाथ को मिलेगा काम: मिश्र

ग्वालियर | 'प्रदेश के हर हाथ को काम दिलाने के लिए राज्य सरकार दृढ़ संकल्पित है । ग्रामीण क्षेत्र में चौबीस घंटे बिजली उपलब्ध कराने की शुरूआत हो रही है, जिससे लघु एवं कुटीर उद्योगों के माध्यम से रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे। यह बात प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा.नरोत्तम मिश्र ने शुक्रवार को जैन छात्रावास में मुख्यमंत्री की युवा स्वरोजगार योजना का शुभारंभ करते हुए कही। कार्यक्रम की अध्यक्षता चिकित्सा शिक्षा मंत्री अनूप मिश्रा ने की एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में महापौर श्रीमती समीक्षा गुप्ता उपस्थित थीं ।
डा. मिश्र ने कहा कि राज्य सरकार जहां एक ओर बड़े उद्योगों को प्रोत्साहित कर रही है वहीं छोटे एवं कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए कई सुविधाएं दे रही है । उन्होने कहा कि शिल्पियों को भी वित्तीय सहायता दी जाएगी। जिससे वे भी स्वरोजगार स्थापित कर सकें । चिकित्सा शिक्षा मंत्री अनूप मिश्रा ने राज्यों में युवाओं का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि स्वरोजगार नौकरी से उत्तम है । उन्होंने कहा युवा अपने पैरों पर खड़े होकर अपना भाग्य संवारे । कार्यक्रम को महापौर श्रीमती समीक्षा गुप्ता ने भी युवाओं को खुद का रोजगार स्थापित करने तथा समय पर ऋण अदा करने की समझाइश दी । कलेक्टर पी.नरहरि ने कहा कि अभी युवा उद्यमियों के लिये अच्छा मौका है, वे शासन की इस योजना का लाभ लेकर अपना रोजगार धंधा स्थापित करें । जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक एम.एल.अटल ने बताया कि मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजनांतर्गत 188 प्रकरण तैयार कर बैंकों को भेजे गये है । इनमें सात प्रकरण स्वीकृत हो गये है, जिनमें पांच हितग्राहियों को मौके पर ऋण पत्र भी वितरित किए गए हैं। इस अवसर पर बैंक ऑफ इण्डिया के प्रबंधक अशोक कुमार ने बैंक संबंधी दस्तावेजों की पूर्तियां कर लाने पर सहज तरीके से ऋण देने की बात कही। कार्यक्रम में भाजपा के जिलाध्यक्ष वेद प्रकाश शर्मा, नगर निगम के सभापति बृजेन्द्र सिंह जादौन, ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण के संचालक हरीश मेवाफरोश,ग्वालियर विकास प्राधिकारण के संचालक सुरजीत भदौरिया, श्रीमती रितु शेजवार,श्रीमती ममता आर्य, जैन समाज के माणिक चंद जैन, अग्रणी बैंक प्रबंधक बी. किशन एवं जनसेवा समिति वीर शिक्षा समिति तथा उद्योग विभाग और बैंक अधिकारीगण उपास्थित थे। कार्यक्रम के अंत में सात युवा उद्यमियों को स्वीकृत ऋण के चेक अतिथियों द्वारा भेंट किए गए।
सरकार की गारंटी पर 25 लाख तक ऋण
प्रदेश में मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना में समाज के सभी वर्गों के लिए उद्योग,सेवा,व्यवसाय स्थापित करने के लिए बैंकों के माध्यम से अधिकतम 25 लाख तक ऋण उपलब्ध कराना है। योजनांतर्गत हितग्राहियों को मार्जिनमनी सहायता, ब्याज अनुदान तथा उद्योग सेवा क्षेत्र के उद्यमों को सीजीटी-एमएसई देय गारंटी शुल्क राशि का भुगतान राज्य शासन द्वारा किया जाएगा। 

Updated : 2013-04-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top