Latest News
Home > Archived > भारत ने इंग्लैंड को 127 रन से हराया

भारत ने इंग्लैंड को 127 रन से हराया

भारत ने इंग्लैंड को 127 रन से हराया
X

कोच्चि | इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने नेहरू स्टेडियम में पांच मैचों की शृंखला के दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत द्वारा दिए गए 286 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 34 ओवरों की समाप्ति तक नौ विकेट खोकर 135 रन बना लिए। तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की शानदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने मैच पर अपनी पकड़ मजबूत बना ली है। भुवनेश्वर ने कप्तान एलिस्टर कुक को 17 रनों के निजी स्कोर पर पगबाधा कर अपना पहला विकेट हासिल किया। इसके बाद बढ़िया बल्लेबाजी कर रहे केविन पीटरसन 42 रनों के निजी स्कोर पर उनका दूसरा शिकार बने। उनके बाद बल्लेबाजी करने आए इयोन मोर्गन अपना खाता भी नहीं खोल सके और भुवनेश्वर का तीसरा शिकार बने। वैस इंग्लैंड की पारी की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही थी और सलामी बल्लेबाज इयान बेल चार रन के कुल योग पर शमी अहमद की बाहर जाती गेंद पर विकेट के पीछे कैच थमा बैठे। बेल ने एक रन बनाया था। इससे पहले, भारत ने टॉस जीतकर कर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट पर 285 रन बनाए। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 72 रनों की पारी खेली जबकि रवींद्र जडेजा ने नाबाद 61 रन बनाए। इन दोनों के अलावा सुरेश रैना ने 55 और विराट कोहली ने 37 रनों का योगदान दिया। युवराज सिंह ने अपनी 32 रनों की पारी में पांच चौके लगाए। धोनी ने अपनी पारी में 66 गेंदों का सामना करते हुए सात चौके और दो छक्के लगाए। उनका विकेट 270 रनों के कुल योग पर गिरा। धोनी और जेडजा ने छठे विकेट के लिए 96 रनों की साझेदारी करके भारत को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। भारत की पारी शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसके दोनों सलामी बल्लेबाज गौतम गम्भीर और अजिंक्य रहाणे 18 रनों के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट गए थे। भारत का पहला विकेट गम्भीर के रूप में गिरा। वह आठ रन के निजी स्कोर पर जेड डेर्नबैक की गेंद पर बोल्ड हो गए। उनके बाद रहाणे भी ज्यादा देर तक नहीं टिक सके और स्टीवन फिन की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। इसके बाद युवराज और कोहली ने अच्छी बल्लेबाजी का प्रदर्शन करते हुए टीम को शुरुआती झटकों से उबारा। दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए 53 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी हुई। युवराज 16वें ओवर में स्पिन गेंदबाज जेम्स ट्रैडवेल की गेंद पर पगबाधा हो गए। भारत का चौथा विकेट कोहली के रूप में गिरा। वह क्रिस वोक्स की गेंद पर इयान बेल के हाथों कैच हो गए। युवराज और कोहली के आउट होने के बाद भारतीय पारी एक बार फिर से लड़खड़ाती नजर आ रही थी, लेकिन रैना ने सूझबूझ का परिचय देते हुए शानदारी पारी खेली। रैना और धोनी के बीच पांचवें विकेट के लिए 55 रनों की साझेदारी हुई। भारत का छटा विकेट धोनी के रूप में गिरा। उन्हें डेर्नबैक की गेंद पर जोए रूट ने सीमा रेखा के पास कैच किया। इंग्लैंड की ओर से फिन और डेर्नबैक ने दो-दो विकेट चटकाए, जबकि वोक्स और ट्रैडवेल को एक-एक सफलता मिली।

Updated : 2013-01-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top