Top
Home > Archived > हिंदू बच्चे के धर्मपरिवर्तन का लाइव प्रसारण

हिंदू बच्चे के धर्मपरिवर्तन का लाइव प्रसारण

हिंदू बच्चे के धर्मपरिवर्तन का लाइव प्रसारण


$img_titleइस्लामाबाद। पाकिस्तान के एक टीवी चैनल ने एक हिंदू बच्चे द्वारा जबरन इस्लाम धर्म अपनाने का लाइव प्रसारण किया गया। जिसके बाद एक प्रमुख समाचार पत्र ने लिखा है कि इससे साफ संकेत मिलता है कि पाक में इस्लाम धर्म की तुलना में अन्य धर्मो को बराबरी का दर्जा नहीं मिलता हैडान ने अपने संपादकीय में लिखा है कि देश की इलेक्ट्रॉनिक मीडिया किसी भी चीज को चटपटा बनाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। लेकिन यह तो हद हो गई कि अब वह धर्म के नाम पर खिलवाड़ करने लगी है। किसी की भावनाओं का मजाक बनाने लगी हैइस घटना के प्रसारण से यह साफ हो गया है कि अब मीडिया ने अपने व्यावसायिक उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए नैतिक मूल्यों, वैचारिक खुलापन और सामान्य ज्ञान को परे रख दिया हैगौरतलब है कि मंगलवार को टीवी के इस शो के दौरान उन्हीं के स्टूडियो में एक इमाम को एक हिंदू लड़के को इस्लाम धर्म स्वीकार करते हुए लाइव दिखाया गया था। इसके अलावा शो के दौरान ही स्टूडियो में बैठे हुए दर्शकों से इस लड़के के लिए नए नाम सुझाने के लिए भी कहा गया।अखबार ने यह भी लिखा है कि ऐसा कोई कारण नहीं, जिससे यह समझा जा सके कि उस लड़के ने स्वेच्छा से इस्लाम कबूल नहीं किया है, परंतु यह शो टीवी के दर्शकों को कुछ नया और अलग दिखाने की ललक में तैयार किया गया है।संपादकीय के मुताबिक चैनल ने संभवत एक बार भी यह नहीं सोचा कि इससे देश में बसे अल्पसंख्यक हिंदुओं को क्या संदेश जाएगा। जिस उत्साह और प्रसन्नता के साथ इस धर्मातरण को दर्शकों ने सराहा, उससे यह स्पष्ट संकेत मिलता है कि जिस देश में अल्पसंख्यकों से कई मामलों में पहले ही दोयम दर्जे के नागरिकों जैसा बर्ताव किया जाता है वहां कुछ भी हो सकता है।अखबार के मुताबिक पाकिस्तानी मीडिया की समस्या यह है कि उनके पास जिम्मेदारी का कोई एहसास नहीं है और वे किसी भी चीज को सनसनीखेज बनाने के लिए नैतिक मूल्यों और उसके औचित्य के बारे में सोचना ही बंद कर चुकी हैं। मीडिया यह भी नहीं सोचती है कि इनकी किस खबर से देशवासियों को क्या संदेश पहुंचेगा।



Updated : 2012-07-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top