Top
Home > Archived > धृतराष्ट्र हंै प्रधानमंत्री

धृतराष्ट्र हंै प्रधानमंत्री


नई दिल्ली
अण्णा हजारे की प्रमुख सहयोगी किरण बेदी ने रविवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की तुलना महाभारत के धृतराष्ट्र से की है। बेदी ने कहा कि प्रधानमंत्री सरकार में भ्रष्टाचार बढ़ा रहे हैं।
दूसरी ओर कांग्रेस ने जवाबी हमला करते हुए कहा है कि टीम अण्णा ने भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन को निजी अभियान और निजी महत्वाकांक्षा में तब्दील कर दिया है। बेदी ने कोयला खदानों के आवंटन में अनियमितता को लेकर प्रधानमंत्री पर हमला जारी रखते हुए ट्वीट किया कि पीएमओ ने प्रधानमंत्री को क्लीन चिट दे दी। क्या महाभारत में कौरवों द्वारा द्रौपदी का चीर हरण की कोशिश करने के बाद भी धृतराष्ट्र ने उनका समर्थन नहीं किया था? बेदी ने कहा कि प्रधानमंत्री और 14 कैबिनेट मंत्रियों के खिलाफ एसआईटी जांच के लिए 25 जुलाई से करो या मरो अनशन किया जाएगा।
दागी टीम हमें तत्पर और मजबूत अपराध न्याय प्रणाली नहीं दे सकती। बेदी के अनुसार, टीम अण्णा कांग्रेस पर इसलिए ध्यान केंद्रित कर रही है, क्योंकि यही संसद के जरिए एक प्रभावी भ्रष्टाचार निरोधी कानून दे सकती है, न कि विपक्ष।

Updated : 2012-06-11T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top