Top
Home > Archived > सियाचिन में बनी रहे सेना: इमरान

सियाचिन में बनी रहे सेना: इमरान

सियाचिन में बनी रहे सेना: इमरान


$img_titleइस्लामाबाद।
पाकिस्तान में विपक्षी नेता इमरान खान ने कहा है कि उनके देश को एकतरफा कदम उठाते हुए सियाचिन से सेना वापस नहीं बुलानी चाहिए। खबरों के मुताबिक पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के प्रमुख ने रविवार को लाहौर में कहा कि भारत और पाकिस्तान दोनों को एक-साथ सियाचिन से सेनाएं वापस बुलानी चाहिए।

इमरान पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल परवेज अशफाक कयानी के 18 अप्रैल के उस बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान सियाचिन से सेना हटाने के मामले में भारत से बातचीत का इच्छुक है। क्रिकेट से राजनीति में आए इमरान ने कहा कि दोनों पड़ोसी देशों का शांतिपूर्ण सहअस्तित्व बेहद महत्वपूर्ण है ताकि सभी जनता के कल्याण पर ध्यान पर केंद्रीत कर सकें।


गौरतलब है कि सियाचिन में गत सात अप्रैल को हुए हिमस्खलन के बाद वहां के दौरे पर गए कयानी ने कहा था कि पाकिस्तान सियाचिन से सेना हटाने के बारे में बातचीत के पक्ष में है। कयानी ने कहा था कि दोनों देशों को एक साथ बैठकर सियाचिन सहित सभी मसलों का हल निकालना चाहिए।

Updated : 2012-04-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top