Top
Home > Archived > सिविल सर्जन डॉ. शर्र्मा का निलंबन दुर्भावनापूर्ण: भाजपा 

सिविल सर्जन डॉ. शर्र्मा का निलंबन दुर्भावनापूर्ण: भाजपा 

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य मंत्री से डॉ. शर्मा को तत्काल बहाल करने की मांग की
निलंबन से पूर्व घटना की जांच कराई जानी चाहिए थी
कांग्रेसी नेता घटिया किस्म के नारे लगाना बंद करे
भिण्ड । जिला अस्पताल गेट के बाहर कांग्रेसी नेता डॉ भागीरथ प्रसाद एवं अन्य उनके कार्यकर्ताओं ने बच्चे का शव रखकर जिला अस्पताल में पदस्थ सिविल सज्रन डॉ केएन शर्मा के साथ की गई घटिया किस्म की ओछी मानसिकता से डॉक्टरों में आक्रोश व्याप्त है जबकि डॉ शर्मा एक ईमानदार कर्मठ, कर्तव्यनिष्ठा अधिकारी है चंबल संभाग कमिश्रर ने कॉग्रेसी नेता डॉ.भागीरथ प्रसाद के राजनैतिक दबाव में आकर उन पर कीचड़ उछालकर निलंबित किया यह दुर्भाग्यपूर्ण है। कॉग्रेसी नेताओं ने बच्चों के परिवारजनों को बरगलाकर पूरा दरोमदार डॉ.के.एन.शर्मा पर डालकर अपनी ओछी मानसिकता प्रदर्शित किया है।
भाजपा जिलाध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा राजे, सांसद अशोक अर्गल, पूर्व सांसद डॉ.रामलखन सिंह विधायक राकेश शुक्ला, अरविन्द सिंह भदौरिया, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्यद्वय अवधेश सिंह कुशवाह, केशव सिंह भदौरिया, म.प्र. खनिज विकास के निगम के पूर्व अध्यक्ष कोक सिंह नरवरिया, खाद्य आपूर्ति निगम के संचालक मायाराम शर्मा, पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डॉ.राजेन्द्र प्रकाश सिंह चौहान, पूर्व जिलाध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह राणा, पूर्व विधायकों में मुन्ना सिंह भदौरिया, नरेन्द्र सिंह कुशवाह, श्रीराम जाटव, अनु.जाति.मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष लाल सिंह आर्य, मथुराप्रसाद मंहत, रसाल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष मिथलेश सिंह कुशवाह, न.पा. अध्यक्ष सावित्री शाक्य, जिला महामंत्री उमेश सिंह भदौरिया, नरेन्द्र सिंह सोंलकी, राजवीर सिंह यादव ने संयुक्त रूप से प्रसे को जारी वक्तव्य में कहा कि कॉग्रेसी नेताओं ने पूर्व लोकसपा प्रत्याशी डॉ.भागीरथ की मौजूदगी में राष्ट्रसमाज सेवा के लिये कार्य कर रहे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं भाजपा के विरूद्ध घटिया किस्म की नारेबाजी करना उनकी ओछी मानसिकता का प्रतीक है। जबकि डॉ.भागीरथ प्रसाद भी एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी रहें जिनकी मौजदूगी में इस प्रकार की नारेबाजी लगाना शोभा नहीं देता है, क्योंकि भिण्ड की जनता ने उन्हें लोकसभा चुनाव में खदेड़ दिया था और उन्होंने चंबल संभाग कमिश्रर पर दबाव डालकर भिण्ड अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. के.एन.शर्मा को अपनी प्रतिष्ठा का प्रश्र बनाकर निलंबित करवाया, अगर इसी प्रकार कॉग्रेसी नेता अपना व्यवहार प्रशासनिक डॉक्टरों के साथ इसी घटिया किस्म की बातों से करते रहेगें तो वह अस्पताल में कार्य नहीं कर पायेगें।
भाजपा नेताओं ने कहा कि आयुक्त को भी राजनैतिक दबाव में आकर इतनी जल्द निलंबित का कार्य नहीं करना चाहिये था, पहले घटना की वास्तविकता को जानते और जांच कराते तब यह कार्रवाई ठीक ही रहती। भाजपा नेताओं ने कॉग्रेस नेताओं से कहा कि वे घटिया किस्म के नारे लगाना छोड़ दें अन्यथा भाजपा कड़ा रूप अपनायेगी। पार्टी नेताओं ने कहा कि डॉ. के.एन. शर्मा ने भिण्ड अस्पताल में एक विशेष पहिचान बनाकर मरीजों को हो रही असुविधाओं के लिए तमाम सुविधाएं मुहैया कराईं, चाहे वो मरीजों के परिवारजनों को बैठने के लिए गार्डन, अस्पताल परिसर के अन्दर साफ-सफाई, चिकित्सकों का ओ.पी.डी. में समय से बैठना, नवीन ओ.पी.डी. निर्माण, अस्पताल परिसर में रैनबसेरा, गहन चिकित्सा इकाई ऐसे कई जनहित के कार्य डॉ. के.एन. शर्मा जी ने किए हैं, जो कि आज अस्पताल विकास की ओर है।
भाजपा नेताओं ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, स्वास्थ्य मंत्री एवं भिण्ड के प्रभारी डॉ. नरोत्तम मिश्रा से डॉ. के.एन. शर्मा को तत्काल बहाल करने की मांग की है। बयान जारी करने वालों में वरिष्ठ नेता नागरिक प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष रामपाल सिंह कुशवाह, जिला उपाध्यक्षों में रामप्रकाश शर्मा, शिरोमणि सिंह भदौरिया, बेतालसिंह, श्रीमती गीता भदौरिया, नीलम कुशवाह, तारा त्रिपाठी, वरिष्ठ भाजपा नेता डॉ. गुलाब सिंह, रविसेन जैन, चिकित्सा प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेशमंत्री डॉ. के.पी. करसोलिया, वरिष्ठ नेता डॉ. रामकृष्ण सिंह जादौन, डॉ. शांतिस्वरूप चौपड़ा, डॉ. मुकेश गर्ग, डॉॅ. सुरेश वर्मा, डॉ. महेश शर्मा, डॉ. कालीचरण राठौर, मेहगांव नं.प. अध्यक्ष कमलेश चन्द्र जैन, भिण्ड नगर अध्यक्ष राजेन्द्र जैन पवन, ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष सुन्दरपाल सिंह कुशवाह, जिला मंत्रियों में मनोज अनंत, सीमा जैन, उमाकांत मिश्रा, शंभूदयाल शाक्य, जननी सुरक्षा प्रकोष्ठ की जिला संयोजक सीमा शर्मा, लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रकोष्ठ की जिला संयोजक अनीता चौपड़ा, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की संयोजक राजकुमारी जैन, भाजयुमो जिलाध्यक्ष देवेन्द्र सिंह नरवरिया आदि प्रमुख हैं।


Updated : 2012-02-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top