Top
Home > Archived > सोनिया और राहुल गांधी से मिले प्रदर्शनकारी

सोनिया और राहुल गांधी से मिले प्रदर्शनकारी

सोनिया और राहुल गांधी  से मिले प्रदर्शनकारी
X

नई दिल्ली | दिल्ली में पिछले रविवार को हुए गैंगरेप की घटना के खिलाफ लोगों का गुस्सा आग में धधक रहा है। देश की राजधानी में शनिवार को वह सब देखने को मिला जो इससे पहले कभी नहीं हुआ था। दिल्ली के सबसे हाई सिक्योरिटी जोन में पहले हजारों युवाओं ने गैंगरेप पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए आवाज बुलंद की। पुलिस की लाठियां खाई, आंसू गैस के गोले की जलन सही और वाटर कैनन की मार सही, लेकिन अपने हौंसलों को कम नहीं होने दिया। यह सिलसिला पूरे दिन चलता रहा। रात को बारह बजे के बाद प्रदर्शनकारियों ने देश की सबसे ताकतवर महिला और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के घर की तरफ कूच कर दिया। प्रदर्शनकारी गैंगरेप के दोषियों को सख्त सजा देने की मांग कर रहे हैं। शनिवार को देश के इस आक्रोश ने 10 जनपथ को भी हिला दिया। इस आक्रोश ने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी को बाहर आने के लिए मजबूर कर दिया। इंसाफ की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए खुद सोनिया गांधी को आधी रात को अपने घर से बाहर आना पडा। सोनिया ने नारेबाजी कर रहे लोगों को समझाते हुए करीब 20 मिनट तक बातचीत की। सोनिया ने दोषियों के खिलाफ कडी कार्रवाई का भरोसा दिलाया लेकिन सोनिया ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए कोई समय सीमा नहीं बताई। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। वही आज गैंगरेप की घटना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे युवाओं के एक समूह ने आज यहां कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी महासचिव राहुल गांधी से मुलाकात की। दोनों ने समूह को त्वरित कार्रवाई का आश्वासन दिया लेकिन इसके लिए कोई समय सीमा नहीं बताई गयी। करीब डेढ़ घंटे की मुलाकात के बाद प्रदर्शनकारियों ने कहा कि प्रदर्शन रूकेंगे नहीं लेकिन उन्होंने शांति की अपील जरूर की। प्रदर्शनकारियों ने पीड़िता की पहचान जाहिर नहीं होने का भी अनुरोध किया है। उन्होंने सोनिया के आवास 10, जनपथ पर दोनों से मुलाकात की जहां गृह राज्यमंत्री आरपीएन सिंह और कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी भी थीं। एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि हमने सोनिया और राहुल से मुलाकात की। उन्होंने हमारी बात सुनी और हमसे कहा कि सरकार को कानून में संशोधन जैसी सभी मांगों को पूरा करने के लिए समय चाहिए। एक अन्य प्रदर्शनकारी ने कहा कि राहुल ने उनसे संशोधन लाने की बात कही, लेकिन सोनिया की तरह यह भी कहा कि वक्त की जरूरत है और सारे बदलाव बहुत कम समय में नहीं किये जा सकते।

Updated : 2012-12-23T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top