Home > Archived > पी. मुरली मनोहर बने एबीवीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, उमेश दत्त पुन: महामंत्री निर्वाचित

पी. मुरली मनोहर बने एबीवीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, उमेश दत्त पुन: महामंत्री निर्वाचित

पी. मुरली मनोहर बने एबीवीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, उमेश दत्त पुन: महामंत्री निर्वाचित
X


नई दिल्ली। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने अपने नये राष्ट्रीय अध्यक्ष और महामंत्री की आधिकारिक घोषणा कर दी है। प्राध्यापक पी. मुरली मनोहर (हैदराबाद) को राष्ट्रीय अध्यक्ष और उमेश दत्त महामंत्री के पद के लिए निर्वाचित किये गये। यह घोषणा आज अभाविप केंद्र कार्यालय मुंबई से की गई है।अभाविप केंद्र कार्यालय से चुनाव अधिकारी प्रा. पी. एम् जयकुमार द्वारा जारी वक्तव्य के अनुसार उपरोक्त दोनों पद का कार्यालय एक वर्ष रहेगा और दोनों पदाधिकारी पटना बिहार में दिनांक 26 दिसम्बर ,2012 से प्रारंभ होने वाले 58 वे राष्ट्रीय अधिवेशन में अपना पदभार ग्रहण करेंगे।प्रा.पी. मुरली मनोहर ,शासकीय डिग्री कॉलेज जड़चेरला जिला मेहबूब नगर, आन्ध्र प्रदेश में अंग्रेजी के व्याख्याता है तथा 1979 से विद्यार्थी परिषद में सक्रिय है। इनका सामाजिक समरसता विषय पर गहरा अध्ययन है। मुरली मनोहर आन्ध्र प्रदेश द्वारा 2007 में उत्कृष्ट शिक्षक के पुरस्कार से भी सम्मानित किये जा चुके हैं। आपने 1987 में पालामूर आन्ध्र प्रदेश जिले में भूखमरी की समस्या को लेकर जनचेतना हेतु ‘भूख यात्रा’ का नेतृत्व किया है तथा पालामूर जिले में ही पानी की समस्याओें को लेकर 1992 से 1995 तक ‘प्रजा संघर्ष समिति’ के तत्वाधान में चले जन आन्दोलन का नेतृत्व किया है। साथ ही 2002 से 2006 तक अभाविप के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहे है।जबकि हिमाचल प्रदेश के कांगडा जिले के उमेश दत्त को तीसरी बार महामंत्री निर्वाचित किये गये। उमेश दत्त ने विभाग संगठन मत्री, प्रदेश संगठन मंत्री आदि दायित्वों का निर्वाह विद्यार्थी परिषद में किया है। 2008 से 2010 तक अभाविप के राष्ट्रीय मंत्री के पद पर भी जिम्मेदारी संभाली है। वर्ष 2010 में राष्ट्रीय महामंत्री के लिए चुने गये एवं तीसरी बार पुनः नये सत्र के लिए राष्ट्रीय महामंत्री निर्वाचित हुए है। उमेश दत्त ने हिमाचल प्रदेश के महाविद्यालयों के छात्रसंघ चुनावों में अभाविप की लगातार हो रही विजय में आपकी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

Updated : 2012-12-16T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top