Top
Home > Archived > धर्म के रक्षक हकीकत राय का बलिदान अमर रहेगा: विहिप

धर्म के रक्षक हकीकत राय का बलिदान अमर रहेगा: विहिप

धर्म के रक्षक हकीकत राय का बलिदान अमर रहेगा: विहिप
X

नई दिल्ली। वीर हकीकत राय का धर्म के लिए किया गया बलिदान
$img_titleसदा याद किया जाएगा। मात्र 14 वर्ष के इस वीर बालक ने हंसते- हंसते अपने प्राण दे दिए किन्तु धर्म परिवर्तन या अपने आस्था केन्द्रों का अपमान सहन नहीं किया। सरस्वती पूजन के एक कार्यक्रम में बोलते हुए विश्व हिन्दू परिषद दिल्ली के मीडिया प्रमुख विनोद बंसल ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि कि बसंत पंचमी के शुभ अवसर पर हमें आज ज्ञान, विज्ञान और कला की देवी मां सरस्वती की उपासना कर देश व धर्म की रक्षा हेतु वीर हकीकत राय के दिखाए रास्ते पर चलने का संकल्प लेना चाहिए। दक्षिणी दिल्ली के संत नगर मैन रोड पर श्री सरस्वती पूजा समिति-संत नगर द्वारा आयोजित वार्षिक सरस्वती पूजन पांडाल में दिन भर लोगों का तांता लगा रहा। इस अवसर पर छोटे छोटे बच्चों द्वारा अनेक गीत-संगीत के कार्यक्रम प्रस्तुत किये तथा भजन संध्या कर मां सरस्वती का अह्वान किया गया।


Updated : 2012-01-30T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top