Latest News
Home > Archived > बीएसएफ का हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्त, पांच घायल

बीएसएफ का हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्त, पांच घायल

रायपुर । छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर स्थित माना विमानतल पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) का एक हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस हादसे में पायलट, सह पायलट समेत पांच लोग घायल हो गए।
रायपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी दीपांशु काबरा ने बताया कि हादसे के वक्त बीएसएफ का एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर :एएलएच: परीक्षण उड़ान पर था। यह लगभग सौ फुट की ऊंचाई पर उड़ रहा था कि अचानक नीचे गिर गया।
काबरा ने बताया कि इस घटना में पायलट आरके सरीन, सह पायलट ब्रिगेडियर पीडी तिवारी, तथा तीन तकनीकी अधिकारी पंकज पाल, सुब्रतो चंद्रा तथा आनंद भारती घायल हो गए हैं। इनमें पीडी तिवारी की हालत गंभीर है। सभी घायलों को यहां के रामकृष्ण केयर हास्पिटल में भर्ती कराया गया है।
उन्होंने बताया कि अभी तक हादसे के कारणों के बारे में जानकारी नहीं मिली है तथा वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर मौजूद हैं। घटना की जानकारी मिलते ही राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के अधिकारी तथा सीमा सुरक्षा बल के अधिकारी घटनास्थल पहुंच गए।
काबरा ने बताया कि हेलीकॉप्टर का आगे और पीछे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया है तथा उसके पंखे टूट गए हैं। रन वे पर गिरे हेलीकॉप्टर को हटाने का कार्य शुरू कर दिया गया है। माना विमानतल के महाप्रबंधक अनिल राय ने बताया कि हेलीकॉप्टर परीक्षण उड़ान पर था तथा इसमें पांच लोग सवार थे।
हेलीकाप्टर जब लगभग सौ फुट की ऊंचाई पर पहुंचा तो वह लड़खड़ाने लगा तथा सीधे रन वे पर आकर गिर गया। इस घटना की जानकारी जैसे ही मिली तत्काल वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए तथा घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया।
राय ने बताया कि इस घटना के कारण एयर इंडिया की मुंबई जाने वाली तथा जेट एयरवेज की बेंगलुरु जाने वाली उड़ानों में विलम्ब हुआ है। हेलीकॉप्टर के रनवे पर गिरने के कारण विमानों की आवाजाही प्रभावित हुई है जिसे जल्द सुचारू कर दिया जाएगा।
राय ने कहा कि अभी तत्काल घटना के कारणों के बारे में जानकारी नहीं मिली है तथा पायलट और सह पायलट के घायल होने की वजह से उनसे अभी बात नहीं हो पाई हैं। हालांकि घटना की जांच डीजीसीए करेगा।
राज्य के नक्सल प्रभावित जिला कांकेर में बीएसएफ तैनात है तथा यहां लड़ रहे जवानों की मदद के लिए हेलीकॉप्टरों को भी तैनात किया गया है। हेलीकॉप्टरों से क्षेत्र में लड़ रहे घायल जवानों को बाहर निकालने तथा रसद पहुंचाने का कार्य किया जाता है।

Updated : 2012-01-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top