Top
Latest News
Home > Lead Story > सफाईकर्मियों के पैर धोकर प्रधानमंत्री मोदी ने कुम्भ से दिया बड़ा संदेश

सफाईकर्मियों के पैर धोकर प्रधानमंत्री मोदी ने कुम्भ से दिया बड़ा संदेश

सफाईकर्मियों के पैर धोकर प्रधानमंत्री मोदी ने कुम्भ से दिया बड़ा संदेश

प्रयागराज। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को कुम्भ मेला पहुंचे। पवित्र संगम में डुबकी लगाकर उन्होंने त्रिवेणी की पूजा, आरती और दुग्धाभिषेक किया। इसके बाद सफाई कर्मियों के पैर धोकर उन्होंने कुम्भ नगरी से पूरी दुनिया को बहुत बड़ा संदेश दिया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज उनका जीवन धन्य हो गया। जिन सफाईकर्मी भाईयों और बहनों के चरण धुलकर मैंने वन्दना की है, वह क्षण मेरे साथ जीवन भर रहेगा। सफाई कर्मियों की तरफ इशारा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि साधु-संतों का दर्शन होता ही रहता है, लेकिन आज मेरे लिए आप सब ही सबसे बड़े तपस्वी हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सफाई कर्मियों की बदौलत प्रयाग कुम्भ पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना है। इस कुम्भ मेले में 22 करोड़ से अधिक श्रद्धालु आये लेकिन गंदगी कहीं भी देखने को नहीं मिली। उन्होंने कहा कि यह सब कुछ सफाई कर्मियों की कठिन मेहनत से ही संभव हो सका। मोदी ने कहा कि इस बार के कुम्भ की पहचान स्वच्छता से हुई है। महात्मा गांधी सौ साल पहले जब हरिद्वार कुम्भ में गये थे तो उन्होंने स्वच्छ कुम्भ की कल्पना की थी। आज उस स्वच्छ कुम्भ को आप सब ने साकार कर दिया। उन्होंने सफाई कर्मियों से आशीर्वाद भी मांगा। कहा कि आप सभी का स्नेह व आशीर्वाद मुझपर ऐसे ही बना रहे और मैं ऐसे ही आपकी सेवा करता रहूं, यही मेरी कामना है।

कुम्भ मेला स्थित गंगा पंडाल में अपने 25 मिनट के संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री ने नाविकों की सेवा को भी खूब सराहा। उन्होंने कहा कि आप ने ही प्रयागराज में भगवान श्रीराम को भी गंगा पार कराया था। आप खुद को राम का सेवक मानते हैं लेकिन मैं अपने को आपका प्रधान सेवक मानता हूं। मोदी ने मेले की सुरक्षा में लगे सुरक्षा कर्मियों की भी सराहना की। पिछले दिनों गंगा में डूब रहे श्रद्धालुओं को अपनी जान देकर बचाने वाले एनडीआरएफ के जवान राजेंद्र गौतम को प्रधानमंत्री ने इस मौके पर श्रद्धांजलि भी दी।

प्रधानमंत्री ने इस मौके पर सफाई कर्मियों, स्वच्छाग्रहियों व सुरक्षाकर्मियों को सम्मानित भी किया। इससे पहले उन्होंने पांच सफाईकर्मियों के पैर धोए और उन्हें शॉल ओढ़ाकर उनका वंदन किया। मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत और समापन गंगा, यमुना और सरस्वती के जयकारे से की।

कार्यक्रम को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भी संबोधित किया। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने स्वागत भाषण दिया। उन्होंने कहा कि यदि केंद्र में नरेंद्र मोदी और प्रदेश में योगी की सरकार न होती तो इस तरह के दिव्य और भव्य कुम्भ की कल्पना नहीं की जा सकती थी। समारोह में प्रदेश के नगर विकास मंत्री और कुम्भ के प्रभारी मंत्री सुरेश खन्ना भी उपस्थित रहे।

पूर्व में अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुम्भ क्षेत्र पहुंचे। सबसे पहले उन्होंने संगम में डुबकी लगायी और त्रिवेणी पूजन व आरती की। इसके बाद सफाई कर्मियों का उन्होंने पैर धुलकर उनका आशीर्वाद लिया। त्रिवेणी पूजा और आरती के दौरान प्रधानमंत्री भगवा रंग की शाल ओढ़े हुए थे। सभा संबोधन के समय भी वह भगवा वस्त्र में ही थे। संगम स्नान के बाद उन्होंने अपने मष्तिस्क पर त्रिपुण्ड लगा रखा था, जो प्रयागराज से जाते समय तक लगा रहा।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top