Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > किसानों ने किया पथराव, एएसपी, सीओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल

किसानों ने किया पथराव, एएसपी, सीओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल

- पुलिस ने किया लाठीचार्ज, विरोध में किसानों ने चलाए ईट पत्थर

किसानों ने किया पथराव, एएसपी, सीओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल

उन्नाव। गंगाघाट थाना क्षेत्र में स्थित ट्रांस गंगा सिटी की भूमि पर कब्जा जमाए किसानों को हटाने के लिए शनिवार को जिला प्रशासन भारी पुलिस प्रशासन के साथ पहुंच गया।

कब्जा हटाते समय उत्तर प्रदेश स्टेट इंडस्ट्रीयल डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (यूपीसीडा) अधिकारियों व इंजीनियरों तथा प्रशासन व पुलिस कर्मियों किसानों से झड़प हो गई। मामला बढ़ता देख गुस्साए किसानों ने वाहनों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। पुलिस ने उपद्रव कर रहे किसानों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया। विरोध में किसानों ने पुलिस पर ईट पत्थर से हमला बोल दिया। फोर्स ने किसानों को भगाने के लिए टियर गैस और दमकल कर्मियों से पानी की बौछार की, मगर किसानों से किए गए पथराव से एएसपी, सीओ सिटी व छह पुलिस कर्मी और किसानों समेत छत्तीस लोग घायल हो गए। स्थिति नियंत्रण में आने के बाद दोबारा किसानों ने फायरिंग शुरू कर दी थी। एएसपी और एडीएम को कैपेनिंग करने के लिए अतिरिक्त फोर्स को तैनात किया गया।

जिलाधिकारी देवेन्द्र कुमार पाण्डेय ने बताया कि गंगाघाट थाना क्षेत्र स्थित ट्रांस गंगासिटी की भूमि पर उप्र राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) के अधिकारी व चीफ इंजीनियर आदि काम करवाने के लिए पहुंचे थे। तभी कानपुर निवासी कुछ अराजक तत्वों ने किसानों को भड़का कर आंदोलन शुरू कराया दिया गया। किसानों को शासन की ओर से 5.51 लाख रुपये का प्रतिकर और सात लाख रुपये का मुआवजा मिलकर कुल 12.51 लाख रुपये की राशि दी जा चुकी है। अब किसानों का कोई क्लेम नहीं बनता है, मगर कानपुर के कुछ ठेकेदार अपने निहित स्वार्थों को लेकर गांव के किसानों को भड़काकर अराजकता फैलाने का काम कर रहे हैं। जिलाधिकारी के मुताबिक कई सालों से ऐसे लोग प्रशासनिक कार्यों में अवरोध उत्पन्न किए हुए हैं।

किसानों से वार्ता करने की कोशिश की गई, मगर अराजक तत्वों से उकसाए जाने पर वह ईट पत्थर चलाने लगे थे। किसी तरह बवाल को शांत कराया गया है। ऐतिहातन तौर पर भारी पुलिस फोर्स को तैनात कर दिया गया है। पत्थरबाजी में एएसपी विनोद कुमार पाण्डेय, सीओ सिटी अंजनी कुमार राय और एसपी कार्यालय के मानवाधिकार प्रकोष्ठ में तैनात दरोगा अनुरुद्ध सिंह समेत छह पुलिस कर्मी घायल हो गए। भीड़ को हटवाने में 12 से अधिक किसान भी घायल हुए हैं। कानपुर निवासी वीएन पाल को गिरफ्तार कर किया गया है तथा अन्य लोगों की तलाश की जा रही है। स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है।

एएसपी और एडीएम राकेश कुमार को फोर्स मुहैया करवा कर घटनास्थल की कम्पेनिंग करवाई जा रही है। कब्जा हटवाने के बाद यूपीसीडा से भूमि पर काम कराया जाएगा। उधर जानकारी मिलने पर सदर विधायक पंकज गुप्ता मौके पर पहुंचे। विधायक ने प्रशासन व आंदोलित किसानों से वार्ता की।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top