Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > ड्यूटी लगाना चुनाव आयोग का काम, भाजपा का नहीं : उमा भारती

ड्यूटी लगाना चुनाव आयोग का काम, भाजपा का नहीं : उमा भारती

ड्यूटी लगाना चुनाव आयोग का काम, भाजपा का नहीं : उमा भारती

झांसी। 1984 में हुए दंगों के वीभत्स नजारों को याद करते हुए श्रीमती वाड्रा (प्रियंका गांधी वाड्रा) को अपने ऊपर पहले नजर डालनी चाहिए। वह बहुत ही हृदयहीन और संवेदनहीन महिला हैं। उन्होंने कभी देश के प्रति अपनी जिम्मेदारी नहीं समझी। यह जवाब भारतीय जनता पार्टी की उपाध्यक्ष उमा भारती ने बांदा में विकलांग कर्मचारी द्वारा छुट्टी न मिलने के चलते आत्महत्या किए जाने के बाद प्रियंका गांधी के उस ट्वीट के लिए दिया, जिसमें उन्होंने इस आत्महत्या के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया था।

उमा भारती यहां लोकसभा चुनाव के उम्मीदवार अनुराग शर्मा के कार्यालय पर कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल होने पहुंची थी। उन्होंने कहा कि जो भी ड्यूटी लग रही है, वह चुनाव आयोग के द्वारा लग रही है। विकलांग कर्मचारी की मौत काफी दुखद है और इसे वह समाज का कलंक मानती हैं।

उन्होंने कहा कि वह रावर्ट वाड्रा की पत्नी का नाम नहीं लेती हैं। लेकिन उन्हें यह पता जरुर होना चाहिए कि ड्यूटी लगाने का काम चुनाव आयोग करता है कोई पार्टी नहीं। यही नहीं उन्होंने कहा कि मायावती के नोट वसूली के पीछे भी तो हत्याऐं हुई हैं। उमा भारती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की टक्कर यदि किसी से है तो वह गठबंधन है। कांग्रेस को विधानसभा चुनाव 2017 से ही सीख लेनी चाहिए थी।

उन्होंने कहा कि बजरंग बली भगवान राम के भक्त थे। मायावती राम का नाम जपें और उनके साथ राम मंदिर के अभियान में शामिल हों। उमा भारती ने कहा कि हमारे देश के नेता वोटों के लिए सारी मर्यादायें लांघ जाते हैं। इसका जबाब जनता देगी। अब भाजपा की सीटें और बढ़ेगी। भाजपा की टक्कर सीधे किसी है तो गठबंधन से है। एक सवाल के जबाब में उन्होंने कहा कि कोर्ट में राफेल की याचिका दायिर की गई है। जिसे कोर्ट द्वारा स्वीकार किया गया है। इस मामले में कांग्रेस जो कह रही है वह गलत है।

भोपाल से कांग्रेस के उम्मीदवार मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के विरोध में उमा भारती के चुनाव लड़े जाने की चर्चाएं जोरों पर हैं। जब इस मामले में उमा से पूछा तो उन्होंने कहा कि इस सवाल का उनके पास कोई जबाब नहीं है। वह तो बहरी हैं। उन्हें यह सवाल सुनाई ही नहीं दिया।

Tags:    

Swadesh Digital ( 10031 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top