Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > अयोध्या फैसला आने के बाद अब रेलवे स्टेशन को भी बनाया जाएगा विश्व स्तरीय : सुरेश अंगड़ी

अयोध्या फैसला आने के बाद अब रेलवे स्टेशन को भी बनाया जाएगा विश्व स्तरीय : सुरेश अंगड़ी

- रेल राज्यमंत्री ने डेडीकेटेड फ्रेट कॉरीडोर लाइन का बारीकी से किया निरीक्षण - कोलकाता से गुजरात व मुंबई तक इस कॉरीडोर का निर्माण किया जाएगा - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट बुलेट ट्रेन की देश में 2023 तक होगी शुरुआत

अयोध्या फैसला आने के बाद अब रेलवे स्टेशन को भी बनाया जाएगा विश्व स्तरीय : सुरेश अंगड़ी

इटावा। डेडीकेटेड फ्रेट कॉरीडोर लाइन का निरीक्षण करने शुक्रवार को पहुंचे रेल राज्यमंत्री सुरेश अगड़ी ने कहा कि अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद अब वहां पर राम मंदिर बनने का रास्ता साफ हो गया है। इसलिए अयोध्या के विकास में रेलवे भी पीछे नहीं रहेगा। अयोध्या के रेलवे स्टेशन को विश्व स्तरीय बनाया जाएगा। यात्रियों के लिए वहां पर विकास के कई कार्य कराये जाएंगे।इतना ही नहीं देश में जल्द ही बुलेट ट्रेन शुरू की जाएगी।

विशेष ट्रेन से इटावा रेलवे स्टेशन पहुंचे रेल राज्यमंत्री सुरेश अगड़ी ने डेडीकेटेड फ्रेट कॉरीडोर लाइन का और रेलवे द्वारा यात्रियों को दी जाने वाली सुविधाओं का बारीकी से निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि इस कॉरीडोर को जल्द चालू करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोलकाता से गुजरात व मुंबई तक इस कॉरीडोर का निर्माण किया जाएगा ताकि रेलवे को आमदनी होने के साथ ही व्यापार बढ़ाया जा सके। जल्द ही खुर्जा से भाऊपुर (कानपुर) तक मालगाड़ियां इस ट्रैक पर चलने लगेंगी।

इसके बाद रेल राज्यमंत्री ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि भगवान राम की नगरी अयोध्या में रेलवे विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन बनाएगी, जिसमें यात्रियों के लिए विशेष सुविधाएं होंगी। अयोध्या आने-जाने के लिए स्पेशल ट्रेनें भी चलाई जाएंगी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट बुलेट ट्रेन की देश में 2023 तक शुरुआत कर दी जाएगी। वह हाल ही में बुलेट ट्रेन के निर्माण को लेकर बड़ौदा गुजरात में निरीक्षण करके आए हैं।

डीएफसीसी के अधिकारियों ने रेल राज्यमंत्री को निर्माण संबंधित एक फिल्म भी दिखाई। इस मौके पर डीएफसीसी के एमडी अंशुमन शर्मा, मुख्य महाप्रबंधक अतुल खरे भी मौजूद रहे।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top