Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > मथुरा > ईवीएम पर शक की कोई गुंजाइश नहीं: केन्द्रीय प्रशिक्षक

ईवीएम पर शक की कोई गुंजाइश नहीं: केन्द्रीय प्रशिक्षक

ईवीएम पर शक की कोई गुंजाइश नहीं: केन्द्रीय प्रशिक्षक

मथुरा। लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 को सकुशल निर्विघ्न, निष्पक्ष रूप से संपन्न कराने के लिए जोनल, सेक्टर तथा मास्टर ट्रेनरों को ईवीएम तथा वीवीपैट के संबंध में एक दिवसीय प्रशिक्षण किसान भवन वेटनरी कॉलेज में आयोजित किया गया।

राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक अतीक अहमद सिद्दीकी ने प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ईवीएम पर शक करने की कोई गुजंाइश नहीं है। उन्होंने तकनीकी पहलुओं पर विस्तार से जानकारी देते हुए मतदान में प्रयोग के समय होने वाली सावधानियों के संबंध में अवगत कराया। उन्होंने बताया कि ईवीएम से किसी प्रकार की छेड़छाड़ भी संभव नहीं है। इस बार प्रत्येक ईवीएम के साथ वीवीपैट मशीन लगायी जायेंगी, जिसमें वोट डालते समय मतदाता को डाले गये वोट की पर्ची 07 सैकण्ड तक दिखाई देने के बाद वीवीपैट के इनबॉक्स में ही गिर जायेगी, जिससे मतदाता को पूर्ण संतुष्टि रहेगी।

उन्होंने बताया कि मतदान के समय बीप की आवाज से पता चलता है कि मतदान हो चुका है। इसी प्रकार ईवीएम तथा वीवीपैट मतदाता के लिए संतुष्टि का प्रतीक है, जिससे शक की कोई गुंजाइस नहीं रहती है। उन्होंने बताया कि ईवीएम तथा वीवीपैट के हिलने, डुलने से भी कोई खराबी नहीं आती है और वीवीपैट में प्रिन्ट होने वाली पर्ची का प्रिन्ट 06 माह तक सुरक्षित रहता है।

मतदान से पूर्व मॉक पोल के समय सभी उपस्थित कार्मिक तथा एजेण्टों के हस्ताक्षर होना जरूरी है, जिससे निष्पक्षता बनी रहे। पोलिंग पार्टियों को प्रशिक्षण में मास्टर टेऊनरों को ईवीएम (कन्ट्रोल यूनिट, बैलेट यूनिट एवं वीवीपैट) के संचालन, सील करना, मॉकपोल, मतदान तथा विशेष परिस्थितयों में होने वाली कठिनाइयों के निस्तारण के संबंध में विस्तार से अवगत कराया।

जिला निर्वाचन अधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने कहा कि निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्यों में लापरवाही क्षम्य नहीं की जायेगी। उन्होंने बताया कि पोलिंग पार्टियों को बीएसए डिग्री कॉलेज में 24, 25 व 26 मार्च को प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसके लिए मास्टर टेऊनर तैयार किये जा रहे हैं। उन्होंने ईवीएम तथा वीवीपैट के विभिन्न पहलुओं पर जानकारी के लिए प्रशिक्षण लेने वालों में से विभिन्न प्रशिक्षणार्थियों से परीक्षण भी कराया और हिदायत दी कि प्रशिक्षण उनके द्वारा ही दिया जाना है इसलिए किसी भी प्रकार से कोई परेशानी नहीं आनी चाहिए। इस एक दिवसीय प्रशिक्षण में उप जिला निर्वाचन अधिकारी अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बृजेश कुमार, अपर जिलाधिकारी प्रशासन सतीश कुमार त्रिपाठी, नगर आयुक्त समीर वर्मा, सभी उप जिलाधिकारी, तहसीलदार, डायट प्राचार्य मुकेश अग्रवाल सहित मास्टर टेऊनर उपस्थित रहे।

Naveen ( 1446 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top