Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > मथुरा > दो दिवसीय उद्यान गोष्ठी एवं लोक कल्याण मेला का समापन

दो दिवसीय उद्यान गोष्ठी एवं लोक कल्याण मेला का समापन

उद्यान विभाग द्वारा दो दिवसीय उद्यान गोष्ठी एवं लोक कल्याण मेला दूसरे दिन शहनाई गार्डन में ही आयोजित किया गया।

दो दिवसीय उद्यान गोष्ठी एवं लोक कल्याण मेला का समापन

दो दिवसीय उद्यान गोष्ठी एवं लोक कल्याण मेला का समापन

मथुरा । उद्यान विभाग द्वारा दो दिवसीय उद्यान गोष्ठी एवं लोक कल्याण मेला दूसरे दिन शहनाई गार्डन में ही आयोजित किया गया। भारी वर्षा होने के कारण आयोजन स्थल पर जलभराव होने के बावजूद बड़ी संख्या में किसानों द्वारा प्रतिभाग किया गया। सेवानिवृत्त जिला उद्यान अधिकारी बीएल पचौरी ने किसानों को जैविक खेती करने के लिए गोबर की सड़ी खाद की आवश्यकता होती है। उनके द्वारा उद्यान रोपण की नवीन विधि की जानकारी देते हुए जनपद में बेर, बेल, नीबू, आंवला रोपण पर विशेष जोर दिया गया। नीबू के कैंसर रोग की रोकथाम के लिए जैविक दवाओं पर प्रकाश डाला गया। उन्होंने जनपद में तिसोड़ा, सहजन एवं चकौरी के उत्पादन से कृषकों की आय दोगुना करने के बारे में जानकारी दी गई।

कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक डॉ0 रविन्द्र कुमार राजपूत द्वारा मिट्टी के नमूना लेने की विधि किसानों को बतायी गई तथा रेह, ऊसर वाली जमीन पर जैविक उर्वरकों का प्रयोग कर खेती करने के उपाय बताये। बीजों की बुबाई से पूर्व कल्चर जैसे राइजोबियम, ट्राईफोलिआई, ट्राईकोरिया का प्रयोग अवश्य करें, जिससे 10-20 प्रतिशत नाइट्रोजन को बचाया जा सकता है। डॉ0 धर्मेन्द्र कठेरिया ने पशु उपचार के संबंध में चर्चा करते हुए पशुओं में होने वाले रोगों के लक्षण तथा उपाचार के उपाय बताये। पशुओं में वर्षा के समय पर खुरपका, मुंहपका की बीमारी अधिक लगती है उसकी रोकथाम के लिए समय से पूर्व टीके अवश्य लगवा लिये जायें।

ग्लोबल संस्थान आगरा के जेसी शर्मा ने खाद प्रसंस्करण के बारे में बताया कि खेती के अतिरिक्त फलों का प्रयोग आचार, जैम तथा सॉस बनाने में किया जाता है, इसके प्रशिक्षण से घर पर ही अपना व्यवसाय किया जा सकता है। नाबार्ड के प्रतिनिधि अमित चतुर्वेदी द्वारा किसान क्लब की स्थापना के संबंध में चर्चा करते हुए किसानों से अनुरोध किया कि वह गांव-गांव में किसान क्लब की स्थापना करायें जिससे व्यापार हेतु बैंक से लोन मिलने में सहूलियत रहती है। लोक कल्याण मेला में सूचना विभाग द्वारा सबका साथ-सबका विकास तथा एक साल-नई मिसाल पर आधारित चित्र प्रदर्शनी लगाई गई जिसमें विभिन्न विभागों के क्रियाकलापों तथा जनकल्याणकारी योजनाओं का सचित्र वर्णन किया गया।

इसके अतिरिक्त उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण, कृषि, बाल विकास, समाज कल्याण व नेडा सहित विभिन्न विभागों द्वारा अपने-अपने विभागीय स्टॉल लगाकर योजनाओं के बारे में किसानों को बताया गया। इस अवसर पर जिला उद्यान अधिकारी जगदीश प्रसाद ने दो दिवसीय मेला आयोजन के सफल संचालन के लिए दूर-दराज से आये किसानों एवं विभागीय अधिकारी, कृषि वैज्ञानिकों का धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम का संचालन जितेन्द्र कुमार ने किया। उद्यान गोष्ठी एवं लोक कल्याण मेला में उपस्थित लगभग 400 किसानों द्वारा प्रतिभाग किया गया जिसमें से कई किसानों द्वारा समस्याओं के संबंध में प्रश्न पूछे गये, जिस पर विभागीय अधिकारियों द्वारा उनके प्रश्नों का उत्तर देकर संतुष्ट किया गया।




Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top