Top
Latest News
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > योगी सरकार ने 2020 ओलंपिक से पहले किया बड़ा ऐलान, जानें

योगी सरकार ने 2020 ओलंपिक से पहले किया बड़ा ऐलान, जानें

योगी सरकार ने 2020 ओलंपिक से पहले किया बड़ा ऐलान, जानें

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इस बार 2020 में टोकियो में आयोजित ओलंपिक में यूपी के खिलाड़ियों को गोल्ड जीतने पर छह करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है। यह बात प्रदेश के होमगार्ड, सैनिक कल्याण, नागरिक सुरक्षा एवं प्रांतीय रक्षक दल विभाग के मंत्री चेतन चौहान ने कही। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार रजत पदक लाने वाले खिलाड़ी को चार करोड़ और कांस्य पदक पर दो करोड़ रुपये का पुरस्कार देगी।

उन्होंने यह भी कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में स्पोर्ट्स विश्वविद्यालय खोलने की तैयारी चल रही है। इसके लिए करीब 60 एकड़ जमीन चिन्हित की जा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि भारत आगे बढ़ रहा है और खिलाड़ियों को भी सुविधाएं मिलने लगी हैं। इसलिए केन्द्र व प्रदेश सरकार खेल को बढ़ावा और खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराने में कोई कसर नहीं छोड़ रही।

यूपी के होमगार्ड्स मंत्री और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर रहे चेतन चौहान गुरुवार को सम्राट पृथ्वीराज चौहान डिग्री कॉलेज में आयोजित 14 दिवसीय अखिल भारतीय अंतर विश्वविद्याल पुरूष-महिला बॉक्सिंग प्रतियोगिता के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 'पढ़ोगे-लिखोगे तो बनोगे नवाब, खेलोगे-कूदोगे तो बनोगो खराब' जैसी कहावत अब गलत साबित हो रही है, क्योंकि अब समय बदल गया है। यही वजह है कि यूपी की योगी सरकार ने टोकियो में होने वाले ओलंपिक में गोल्ड लाने वाले यूपी के खिलाड़ियों को 6 करोड़ रुपये पुरस्कार देने की घोषणा की है। रजत पदक हासिल करने वाले खिलाड़ी को चार करोड़ और कांस्य विजेता को दो करोड़ रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि यूपी सरकार ने 11 विभागों में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों के लिए नौकरी की सुविधा प्रदान की है। अंतरराष्ट्रीय पटल पर मेडल लाने वाले खिलाड़ी को क्लास-2 नौकर दी जा रही है। इतना ही नहीं यदि कोई खिलाड़ी ग्रेजुएट नहीं है तो उसे चार साल तक डिग्री लेने का समय देने का भी प्रावधान किया गया है। पूर्व क्रिकेटर और यूपी के मंत्री चौहान ने यह भी कहा कि पहले लोग क्रिकेट की आलोचना करते थे, लेकिन आईपीएल ने खेल में परिवर्तन कर दिखाया है। इतना ही नहीं कबड्डी, बॉक्सिंग के क्षेत्र में भी खिलाड़ियों ने अपनी पहचान बनाई है।

उन्होंने कहाकि खेल साधना और तपस्या होती है और खिलाड़ी जुनून वाला, दीवाने और मस्ताने होते हैं। वह देश के लिए खेलते हैं किसी मजहब या फिर जाति के लिए नहीं। मंत्री ने विजेता खिलाड़ियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित भी किया। समापन समारोह का संचालन कालेज प्राचार्य डा. अनिल चौहान व कुलदीप त्यागी ने संयुक्त रूप से किया।

स्पोर्टस कोटे से दो हजार खिलाड़ी पुलिस में होंगे भर्ती

यूपी के होमगार्डस मंत्री ने कहा कि अब पुलिस की नौकरी में दो प्रतिशत का कोटा खिलाड़यों का होगा। शासन स्तर पर इस प्रस्ताव को अंतिम रूप देने का काम किया जा रहा है। शीघ्र ही यूपी में दो हजार खिलाड़ी पुलिस में भर्ती होंगे।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top