Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > योगी आदित्यनाथ ने चुनाव प्रचार में की इतनी सभाएं

योगी आदित्यनाथ ने चुनाव प्रचार में की इतनी सभाएं

योगी आदित्यनाथ ने चुनाव प्रचार में की इतनी सभाएं

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के देश व्यापी विजय अभियान में स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ ने अपनी तरह से योगदान किया। उन्होंने 9 राज्यों में 30 संसदीय क्षेत्रों में जाकर प्रचार किया। भाजपा इनमें से 23 सीटें जीतने में कामयाब रही।

इस तूफानी दौरे में राष्ट्रवाद, मोदी की लोकप्रियता, सबका साथ सबका विकास से लेकर कांग्रेस की नाकामियों तक की चर्चा की। जनता से सीधा संवाद किया। योगी के नाम व काम के चलते उन्हें सुनने के लिए सभाओं में भारी भीड़ उमड़ी। पश्चिम बंगाल में योगी आदित्यनाथ दो बार दौरा किया और वहां मुस्लिम तुष्टीकरण को लेकर तृणमूल कांग्रेस को घेरा। मुख्यमंत्री योगी उत्तर प्रदेश के सभी लोकसभा क्षेत्रों में गए। जिसमें से 64 में एनडीए को जीत मिली आखिरी चरण में दिनभर प्रचार के बाद उन्होंने अपना केंद्र बनारस और गोरखपुर को बनाए रखा उसका असर पूर्वांचल की सभी सीटों पर दिखाई पड़ा।

गोरखपुर में उपचुनाव में हार के बाद जीत का इतना बड़ा अंतर इसका नतीजा है। पश्चिम बंगाल में जिस पुरुलिया जिले से उन्होंने प्रचार की शुरुआत की वहां भाजपा को बंपर जीत मिली । अन्य राज्यों में की गई 35 सभाओं में से 25 पर भाजपा को जीत मिली। कह सकते हैं कि भाजपा की इस बड़ी जीत में योगी का फैक्टर भी नरेंद्र मोदी के बाद सबसे ज्यादा काम आया। योगी ने पहली चुनावी रैली पुरुलिया पश्चिम बंगाल जाकर की।

सीएम 28 अप्रैल को बिहार के पश्चिमी चंपारण, मोतिहारी, मधुबनी, छपरा सीटों पर जाकर जनसभा की और कहा कि इस बार विपक्ष मोदी की आंधी में खर-पतवार की तरह उड़ जाएगा। योगी आदित्यनाथ जब पश्चिम बंगाल गये तो वहां उन्होंने ममता बनर्जी के गढ़ बहरामपुर, काल्ना और श्रीरामपुर में कहा कि देश की सुरक्षा के लिए खतरा बने बांग्लादेशियों को वापस भेजने की व्यवस्था सिर्फ भाजपा ही कर सकती है। यह सरकार दुर्गा पूजा को रोकने का प्रयास करती है। यह कौन सी धर्म निरपेक्षता है, जहां पर लोगों को उनकी आस्था से वंचित करने का प्रयास किया जा रहा है।

योगी ने इन सीटों के लिए की सभाएं

योगी पुरुलिया, बोनगांव, बहरामपुर ,बारासात, कोलकाता उत्तरी, कोलकाता दक्षिण (पश्चिम बंगाल) गांधीनगर (गुजरात), रुड़की, काशीपुर (उत्तराखंड) असम, भुवनेश्वर (उड़ीसा), श्रीकालहस, पेद्दापल् येल्लारेड्डजीत (आंध्रपदेश) अम्बिकापुर, जांजगीर चंपा, नवापारा ( छत्तीसगढ़), पश्चिमी चंपारण, मोतिहारी, मधुबनी , छपरा, पटना (बिहार ) श्रीगंगानगर , नागौर, पावटा, अलवर (राजस्थान ), विकासपुरी व मंडावल मुरैना व शिवपुरी (मध्यप्रदेश) । इनमें भाजपा 23 सीटों पर जीती।

Tags:    

Swadesh Digital ( 9596 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top