Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > हम समाजवाद नहीं गांधी के रामराज्य के समर्थक हैं : मुख्यमंत्री योगी

हम समाजवाद नहीं गांधी के रामराज्य के समर्थक हैं : मुख्यमंत्री योगी

हम समाजवाद नहीं गांधी के रामराज्य के समर्थक हैं : मुख्यमंत्री योगी

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पीएफ घोटालेबाजों की सम्पत्ति जब्त करके बिजली कर्मचारियों की पाई-पाई वापस कराई जाएगी। संविधान दिवस के मौके पर आयोजित विधानपरिषद के विशेष सत्र में उन्होंने आरोप लगाया कि पीएफ घोटाले की शुरुआत दिसम्बर 2016 में हो गई थी। एपी मिश्र का बगैर नाम लिए उन्होंने कहा कि उस समय के एमडी का कार्यकाल बगैर कैबिनेट की मंजूरी के आखिर कौन बार-बार बढ़ा रहा था। तत्कालीन प्रदेश सरकार का सबसे प्रिय अधिकारी घोटाले का मास्टरमाइंड हैं। जिसे मौजूदा सरकार ने जेल में ढूंसने का काम किया है। कर्मचारियों से सरकार ने वादा किया है कि कर्मचारियों का पैसा पूरा वापस करेगे। साथ ही जो भ्रष्ट हैं, उनपर कार्यवाही भी होगी।

सीएम योगी ने कहा, 'सपा के कार्यकाल में एक्सप्रेस वे में भी खेल होता था। सपा सरकार में 340 किलोमीटर लंबा और 110 मीटर चौड़ा 'पूर्वांचल एक्सप्रेस वे' 15,200 करोड़ में बन रहा था। वही एक्सप्रेस वे हमारी सरकार पहले के मुकाबले 10 मीटर ज्यादा चौड़ाई के साथ 11,800 करोड़ में बना रही है। हमने भाजपा एम्बुलेंस सेवा नाम से कोई योजना नहीं शुरू की। पेंशन योजना के नाम में भाजपा का नाम नहीं जोड़ा। पार्टी अलग होती है सरकार अलग।' सपा सदस्यों के यह कहने पर संविधान में समाजवादी शब्द है। सीएम ने कहा, 'यह शब्द भी 1976 में जुड़ा था। आप लोग इमरजेंसी के समर्थक हैं। मैं रामराज्य का समर्थक हूं। यह देश गांधी के रामराज्य पर चलता है हम उसको लेकर ही चल रहे हैं।'

सीएम ने कहा, 'पूर्वी उत्तर प्रदेश से आने वाले जानते हैं कि इंसेफेलाइटिस से पहले क्या हाल था? हज़ारों लोगों की मौत होती थी लेकिन कुछ किया नहीं जाता था, पर स्वच्छ भारत अभियान ने उस पर रोक लगाई। बीमारी से मरने वाले अल्पसंख्यक समुदाय व दलित समुदाय से थे , जिनको सत्ता में रहने वालों ने सिर्फ वोट बैंक बना दिया था। यह वर्ष उत्तर प्रदेश के लिए बहुत महत्वपूर्ण था। प्रदेश में 1 करोड़ 47 लाख लोगों को उज्वला योजना में गैस सिलिंडर मिले हैं। एक करोड़ 16 लाख लोगों को बिजली का कनेक्शन दिया गया है। एक करोड़ 80 लाख गावों तक इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए काम किया गया है। रमाला, मुण्डेरवा, पिपराइच में नई चीनी मिलें शुरू हुई। मेरठ से प्रयागराज तक गंगा एक्सप्रेस वे बनाने जा रहे हैं।'

मुख्यमंत्री ने विपक्षी दलों पर चुटकी लेते हुए कहा, 'लम्बे समय बाद राज्यपाल का अभिभाषण शांतिपूर्ण तरीके से हुआ। यही है बदलता उत्तर प्रदेश। कभी सदन में लात घूंसे चलते थे। अब मर्यादाओं का पालन करते हुए कार्यवाही का बढ़ना बड़ी उपलब्धि है। हम एक भारत श्रेष्ठ भारत के लिए आगे बढ़ रहे हैं।'

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top