Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > उन्नाव मामले में डीजीपी ने कहा - पीड़ित परिवार चाहेगा तो होगी सीबीआई जांच

उन्नाव मामले में डीजीपी ने कहा - पीड़ित परिवार चाहेगा तो होगी सीबीआई जांच

उन्नाव मामले में डीजीपी ने कहा - पीड़ित परिवार चाहेगा तो होगी सीबीआई जांच

लखनऊ। रायबरेली के थाना माखी के पास से उन्नाव रेप पीड़िता की कार दुर्घटना के मामले में डीजीपी ओपी सिंह ने कहा है कि प्रथम दृष्टया हादसा लग रहा है कि लेकिन पीड़ित परिवार चाहेगा तो घटना की सीबीआई जांच के लिए सिफारिश करेंगे।

उन्नाव रेपकांड की पीड़िता की कार रविवार दोपहर गुरुबख्शगंज क्षेत्र में अटौरा गांव के पास सामने से आ रहे ट्रक से भिड़ गई थी। हादसे में पीड़िता की चाची समेत दो की मौत हो गई, जबकि पीड़िता और वकील गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं। घायलों को लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक ट्रक नंबर UP-71-AT-8300 का मालिक देवेंद्र किशोर पाल निवासी ललौली जिला फतेहपुर उत्तर प्रदेश का रहने वाला है जबकि ट्रक ड्राइवर आशीष कुमार पाल पुत्र सूरजपाल निवासी अट्टी समदपुर, ललौली जिला फतेहपुर व ट्रक क्लीनर मोहन श्रीवास पुत्र सरवण निवासी पैलानी जिला बांदा उत्तर प्रदेश का रहने वाला है।

पुलिस को दिए बयान में ड्राइवर आशीष कुमार पाल ने बताया है कि बांदा में उसने रात 12 से 1 बजे के बीच 28000 रुपए से मोरंग खरीद कर ट्रक में भरा। जिसे रायबरेली में 37000 रुपए में सुबह करीब 10 बजे बेच दिया। जब वह खाली ट्रक लेकर 28 जुलाई को रायबरेली से फतेहपुर लौट रहा था, तो दोपहर 1 बजे के करीब विपरीत दिशा से आ रही तेज रफ्तार स्विफ्ट डिजायर कार से हादसा हो गया। दुर्घटना के समय तेज बारिश हो रही थी, जिससे ड्राइवर संतुलन नहीं बन सका, और कार से टकरा गया।

वहीं, ट्रक मालिक देवेंद्र पाल ने पुलिस को बयान दिया है कि वह समय पर किश्तों का भुगतान करने में असमर्थ था और बहुत बार फाइनेंसर उन्हें परेशान कर रहे थे। इस वजह से उसने ट्रक के सामने की साइड नंबर प्लेट पर कुछ ग्रीस पेंट कर दिया था।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top