Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > पटरी पर बैठे अवध एक्सप्रेस के चार यात्रियों की राजधानी की चपेट में आने से मौत

पटरी पर बैठे अवध एक्सप्रेस के चार यात्रियों की राजधानी की चपेट में आने से मौत

पटरी पर बैठे अवध एक्सप्रेस के चार यात्रियों की राजधानी की चपेट में आने से मौत

इटावा/वेब डेस्क। यूपी के इटावा के बलरई रेलवे स्टेशन पर खड़े अवध एक्सप्रेस के चार यात्रियों की राजधानी की चपेट में आने से मौत हो गई। इसके अलावा आधा दर्जन घायल हो गए।



अवध एक्सप्रेस मुजफ्फरपुर से बांद्रा टर्मिनल जा रही थी। बलरई स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर अवध को लूप लाइन पर खड़ा करके कानपुर की ओर से दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन को पास कराया जा रहा था ।

इसी दौरान अवध एक्सप्रेस के यात्री गर्मी की बजह से पटरी पर बैठ गये और कुछ खड़े हो गए थोड़ी देर बाद ही राजधानी एक्सप्रेस ने यात्रियों को अपनी चपेट में ले लिया। 4 लोगो की मौके पर मौत हो गई जबकि कई घायल हो गए। घटना से अफरातफरी मच गई। घायलों को सैफई और टूण्डला जिला अस्पताल भेजा गया।

घटना के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस क्षेत्राधिकारी चंद्रपाल सिंह ने बताया कि सोमवार सुबह मुज्जफरपुर से बांद्रा जा रही अवध एक्सप्रेस को बलरई स्टेशन पर लूप लाइन पर रोका गया जिसके बाद ट्रेन में सवार चार यात्री ट्रेन से उतरकर रेलवे ट्रैक पर आ गए तभी पीछे से आ रही राजधानी एक्सप्रेस की चपेट में आने से चारों यात्रियो की मौके पर ही मौत हो गयी घटना की सूचना मिलने पर हम लोग आये है। हादसे में मरने वाले यात्रियों की शिनाख्त हो गयी है चारों यात्री जीतू 21, सुरेन्द्र 20 लालचंद्र 21 और पिंटू 21 वर्ष जिला कौशाम्बी के रहने वाले है और चारों एक ही परिवार के है।

ट्रेन में सवार यात्री जसवंत सिंह ने बताया कि हम लोग कौशाम्बी से एक साथ सूरत नौकरी की तलाश में अवध एक्सप्रेस में सवार होकर जा रहे थे। ट्रेन की जरनल बोगी में जगह न होने के कारण हम लोग स्लीपर बोगी में बैठ गए थे जिसके बाद ट्रेन में सवार टीटीई ने हम लोगो से पैसे मांगे तो हम लोगो ने उन्हें अगले स्टेशन पर बोगी बदलने की बात कही और जब ट्रेन बलरई स्टेशन पर रुकी तो हम लोग स्लीपर बोगी से उतरकर जरनल बोगी की तरफ प्रस्थान करने लगे जिसमे यह चारों लोग प्लेटफार्म की तरफ न उतरकर उलटी दिशा में रेलवे ट्रैक पर उतरकर चलने लगे। तभी पीछे से आ रही राजधानी एक्सप्रेस की चपेट में आने इन चारों की मौत हो गयी है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 9596 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top