Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > सपा-बसपा गठबंधन के खिलाफ मिलकर चुनाव लड़ रही भाजपा और कांग्रेस : मायावती

सपा-बसपा गठबंधन के खिलाफ मिलकर चुनाव लड़ रही भाजपा और कांग्रेस : मायावती

सपा-बसपा गठबंधन के खिलाफ मिलकर चुनाव लड़ रही भाजपा और कांग्रेस : मायावती

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस व भाजपा पर एकजुट होकर गठबंधन के खिलाफ चुनाव लड़ने का आरोप लगाया है। वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रियंका गांधी वाड्रा के बयान को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है।

मायावती ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी यहां सपा-बसपा गठबन्धन के बारे में भाजपा की ही तरह ही अनाप-शनाप भाषा बोलने लगी है। इससे यह स्पष्ट हो जाता है कि ये दोनों पार्टियां अन्दर-अन्दर हमारे गठबन्धन के खिलाफ एक होकर व आपस में मिलकर यहां उत्तर प्रदेश में यह चुनाव लड़ रही हैं।

मायावती ने कहा कि यही मुख्य वजह है कि अब इस कांग्रेस पार्टी के लोग यह भी कहते घूम रहे हैं कि चाहे भाजपा के उम्मीदवार चुनाव जीत जाये लेकिन सपा व बसपा गठबन्धन के उम्मीदवार यहां चुनाव नहीं जीतने चाहिये।

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि इसी जातिवादी व द्वेष की मानसिकता के तहत कांग्रेस ने यहां ज्यादातर सीटों पर भाजपा को फायदा पहुंचाने के लिए ही अपने उम्मीदवार भी खड़े किये हैं। उन्होंने कहा कि इससे यह भी साफ जाहिर हो जाता है कि ये कांग्रेस व भाजपा कतई नहीं चाहते हैं कि देश में जातिवादी, संकीर्ण, साम्प्रदायिक एवं पूंजीवादी व्यवस्था के शिकार लोग केन्द्र व राज्यों की सत्ता में आसीन हो। मायावती ने कहा कि इसीलिए हमारी पार्टी शुरू से ही इन दोनों पार्टियों को एक ही थाली के चट्टे-बट्टे ही मानकर चलती है, जो यह कहना बिल्कुल भी गलत नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में अब जो लोग भी इस चुनाव में कांग्रेस को वोट देते हैं तो उससे फिर यहां प्रदेश में भाजपा को ही फायदा पहुंचेगा। इसे भी खास ध्यान में रखकर अब यहां के लोगों को अपना वोट, कांग्रेस पार्टी को देकर कतई भी खराब नहीं करना है बल्कि एकतरफा अपना वोट यहां अपने गठबन्धन के उम्मीदवार को ही देना है और तभी ही फिर यहां भाजपा को हराया जा सकता है।

कोई पार्टी कमजोर उम्मीदवार नहीं उतारती, लोगों को पसंद नहीं कांग्रेस-अखिलेश

वहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रियंका गांधी वाड्रा के कुछ सीटों पर कांग्रेस द्वारा कमजोर उम्मीदवार खड़े किए जाने के दावों को खारिज किया है। उन्होंने कहा कि कोई भी पार्टी ऐसा नहीं करती है। कांग्रेस ने कहीं भी कमजोर उम्मीदवार नहीं खड़े किए हैं। सच तो ये है कि लोग कांग्रेस को पसंद नहीं करते हैं।

प्रियंका ने बुधवार को अपने बयान में कहा था कि जिन सीटों पर कांग्रेस मजबूत है और हमारे कैंडिडेट कड़ी टक्कर दे रहे हैं, वहां कांग्रेस जीतेगी। जहां हमारे उम्मीदवार थोड़े हल्के हैं वहां हमने ऐसे उम्मीदवार दिए हैं जो बीजेपी का वोट काटें। अखिलेश ने कहा कि भाजपा व कांग्रेस में कोई फर्क नहीं है जो कांग्रेस है वही भाजपा है और जो भाजपा है वही कांग्रेस है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने ही सीबीआई और ईडी जैसी एजेंसियों का दुरुपयोग करना भाजपा को सिखाया है।

वहीं, उन्होंने राहुल गांधी के बयान को लेकर कहा कि सपा-बसपा को भाजपा कंट्रोल नहीं करती। हम गठबंधन में चुनाव लड़ रहे हैं। हमारा गठबंधन भाजपा की खराब नीतियों को रोक देगा। गौरतलब है कि राहुल गांधी ने बुधवार को बाराबंकी में एक जनसभा में कहा था कि सपा-बसपा को भाजपा कंट्रोल करती है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 10698 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top