Home > टेक अपडेट > अब बिना गैस के कैसे कूलिंग करेंगे एसी और फ्रिज, जानें

अब बिना गैस के कैसे कूलिंग करेंगे एसी और फ्रिज, जानें

अब बिना गैस के कैसे कूलिंग करेंगे एसी और फ्रिज, जानें

नई दिल्ली। फ्रिज और एयर कंडीशनर का इस्तेमाल करते हुए अक्सर यह बात परेशान करती है कि हम न चाहते हुए भी ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में योगदान कर रहे हैं। मगर, अब ये मलाल नहीं रहेगा। एसी फ्रिज को अब गैसों की बजाय उस क्रिस्टल पाउडर के जरिए कूल रखा जा सकेगा, जो कॉस्मेटिक उत्पादों में इस्तेमाल होता है। कार्बन उत्सर्जन में यह क्रिस्टल पाउडर काफी मददगार साबित होगा। विशेषज्ञों का दावा है कि 'प्लास्टिक क्रिस्टल' के नाम से जाना जाने वाला ठोस पदार्थ वर्तमान में फ्रिज और एसी में इस्तेमाल होने वाली गैसों के मुकाबले कई गुना बेहतर है। खासकर पर्यावरण के लिहाज से।

वैज्ञानिकों का कहना है कि सॉलिड क्रिस्टल प्लास्टिक गैसों की तुलना में एक हरित विकल्प साबित हो सकता है। एक लिक्विड और गैसीय अवस्था के बीच गैस के दबाव के चलते फ्रिज ठंडा होता है। इस रिएक्शन में हीट कम होती है और कूलिंग बढ़ती है। नए सिस्टम में भी यही प्रक्रिया होगी, लेकिन इसमें क्रिस्टल पाउडर के दबाव को एप्लाई किया जाएगा। प्रोटोटाइप में नई प्रक्रिया भी हीट को अवशोषित करती है और इस तरह फ्रिज को ठंडक मिलती है। एक्सपट्र्स के मुताबिक इस प्लास्टिक का इस्तेमाल कॉस्मेटिक आइटम्स में पहले से हो रहा है।

वर्तमान में दुनिया की एक तिहाई बिजली का इस्तेमाल फ्रिज और एयर कंडीशनर में होता है। चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंस के इंस्टीट्यूट ऑफ मेटल रिसर्च के वैज्ञानिकों का कहना है कि प्लास्टिक क्रिस्टल न सिर्फ कूलिंग करने के लिए प्रभावशाली है, बल्कि ऊर्जा की खपत भी इसमें कम होती है। इस क्रिस्टल में पाउडर जैसा टेक्सचर होता है, इनमें से एक निओपेंटाइल ग्लाइकोल के तौर पर जाना जाता है, जो किसी भी अन्य ठोस पदार्थ के मुकाबले दस गुना ज्यादा ऊर्जा अवशोषित करता है। इससे साफ है कि कूलिंग करने के मामले में ये ज्यादा प्रभावशाली है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 9454 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top