Home > खेल > क्रिकेट > विश्व कप 2019 : सेमीफाइनल के मैच से पहले ऐसा बोले कोहली

विश्व कप 2019 : सेमीफाइनल के मैच से पहले ऐसा बोले कोहली

विश्व कप 2019 : सेमीफाइनल के मैच से पहले ऐसा बोले कोहली

मैनचेस्टर। भारतीय टीम लगातार तीसरी बार विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचने में सफल रही है। इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी इस विश्व कप-2019 में भारत को पहले सेमीफाइनल में मंगलवार को न्यूजीलैंड से भिडऩा है। भारत को सेमीफाइनल में पहुंचाने में अहम योगदान सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का रहा है। रोहित ने अभी तक आठ मैचों में पांच शतकों की मदद से 647 रन बनाए हैं।

कोहली को उम्मीद है कि मुंबई का यह बल्लेबाज अगले दो मैचों में भी शतक जमाएगा और भारत को विश्व कप दिलाएगा। मैच से पहले कोहली ने कहा, एक कप्तान के तौर पर मैंने इस विश्व कप में जिस तरह का रोल निभाया है वो अच्छा है। मैं हर वो रोल निभाने को तैयार हूं जो टीम मुझसे चाहती है। यह अच्छा है कि रोहित निरंतर अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं।

इसका मतलब है कि पारी में देर से आने के कारण मुझे थोड़ा अलग रोल निभाना पड़ रहा है जो मध्य ओवरों को संभालना है और हार्दिक पांड्या, केदार जाधव, धोनी को उनका खेल खेलने के लिए स्वतंत्र छोडऩा है। कप्तान ने कहा कि निजी रिकॉर्ड ऐसे हैं कि जिन पर कोई खिलाड़ी ध्यान नहीं देता। रोहित ने भी पिछले मैच के बाद यही बात कही थी।

वे सिर्फ अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश कर रहे हैं और इस प्रक्रिया में विशेष चीजें हो रही हैं। कोहली भी इस विश्व कप में लगातार पांच अर्धशतक जमा चुके हैं। कोहली और रोहित चाहेंगे कि उनका यह फॉर्म 14 जुलाई तक जारी रहे। उन्होंने कहा, इसलिए मुझे लगता है कि टीम स्पोर्ट में आपको चीजों के साथ तालमेल बिठाने की जरूरत होती है।

मैं इस बात से खुश हूं कि मैं ऐसा कर रहा हूं और मैं उम्मीद करता हूं कि रोहित दो और शतक जमाएंगे ताकि हम दो और मैच जीत सकें। यह बेहतरीन उपलब्धि होगी। मैंने कभी नहीं देखा कि किसी ने एक टूर्नामेंट में पांच शतक जमाए हो। विश्व कप में तो ज्यादा दबाव होता है और यहां वो बेहतरीन खेल रहे हैं। मेरे हिसाब से वे विश्व के शीर्ष वनडे खिलाड़ी हैं। कोहली से जब उनके रोल के बारे में और गहराई से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं समझ चुका हूं कि वनडे में आपका रोल बदल सकता है, यह निर्भर करता है कि आप किस समय बल्लेबाजी करने जा रहे हैं। मैं एक छोर पकडक़र खुश हूं और दूसरे खिलाडिय़ों को 150, 160 और 200 तक पहुंचते देखना चाहता हूं। अंत में मैं तेजी से रन बना सकता हूं। कोहली ने साथ ही माना कि न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का सामना करना आसान नहीं होगा, खासकर जब तब मौसम खराब हो।

कोहली ने कहा कि न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण हमेशा से संतुलित रहा है। उनके तेज गेंदबाज निरंतर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। मिशेल सेंटनर मध्य के ओवरों में अपनी योग्यता से काफी नियंत्रण लेकर आ रहे हैं। वो एक ऐसी टीम है जो हमेशा से निरंतर अच्छा करती आई है। इसलिए हम जानते हैं कि हमें उनके सामने बेहद अनुशासन में रहना होगा साथ ही सही क्रिकेट भी खेलनी होगी क्योंकि वे अच्छी लाइन और लैंथ पर गेंदबाजी कर रहे हैं।

कोहली से जब भारत के गेंदबाजी आक्रमण के बारे में पूछा गयो तो उन्होंने कहा, मेरे हिसाब से, हमारा गेंदबाजी आक्रमण अगर इस टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ नहीं है तो उसके करीब तो है। मुझे लगता है कि हमने जिस तरह से दो कम स्कोर वाले मैचों में गेंदबाजी की है वो शानदार है। वहां खिलाडिय़ों ने बताया है कि वे क्या कर सकते हैं।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top