Top
Latest News
Home > धर्म > परीक्षा में चाहते है बढ़िया अंक... तो करें यह उपाय

परीक्षा में चाहते है बढ़िया अंक... तो करें यह उपाय

परीक्षा में चाहते है बढ़िया अंक... तो करें यह उपाय

वेबडेस्क। शास्त्रों में बुधवार का दिन भगवान गणेश का दिन माना जाता है प्रथम पूज्य के साथ इस दिन को बुध गृह का दिन भी माना गया है।भगवान गणेश और बुध गृह दोनों ही बुद्धि के दाता कहें जाते हैं। यदि कोई प्रतियोगी परीक्षा की तयारी कर रहा है और यदि चाहता है की उसके बच्चे परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करें, उसके लिए जरुरी हैं की बुद्धि के दाता गणेश को मनाना। गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए सबसे उपयुक्त दिन है बुधवार। इस दिन भगवान गणेश को प्रसन्न करने से घर में सुख-समृद्धि, और जीवन में ज्ञान एवं सद्बुद्धि प्राप्त होती है।गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए करें यह उपाय जो की अत्यंत लाभकारी मानी जाती है।

लड्डू :गणेश जी को लड्डू एवं मोदक अत्यंत पसंद हैं। उन्हें प्रति बुधवार लड्डू अथवा मोदक का भोग लगाये। लड्डू का भोग लगाने वालों पर गणेश जी विशेष कृपा करतें है। शास्त्रों में भी लिखा हैं की जो व्यक्ति भगवन गणेश को उनकी पसंद के मोदक और लड्डू का भोग लगाता है , उनकी सभी मनोकामना पूर्ण होती है साथ ही सद्बुद्धि देते हैं।

चावल : जो विद्यार्थी परीक्षा में अच्छे अंक लाना चाहते है उन्हें बुधवार को अपनी स्टडी टेबल पर थोड़े से चावल लेकर एक छोटी सी ढ़ेरी बनाये एवं उस ढ़ेरी के ऊपर सुपारी में कलावा लपेट कर रख दें। इसके अलावा गणेश जी की प्रतिमा को उत्तर की और मुख कर रखने से भी लाभ होता हैं।

गणेश मन्त्र : गणेश मन्त्र का उच्चारण करने के बाद पढ़ाई शुरू करें। जब भी आप किसी खास विषय की तैयारी कर रहें हो तब पढाई शुरू करने से पहले 7 बार गणेश जी के नाम का उच्चारण करें. कहा जाता हैं। ऐसा करने से लम्बे समय तक याद रहता हैं और स्मरण शक्ति मजबूत होती हैं।

शहर में कई गणेश जी के कई मंदिर स्थित हैं खासगी बाजार स्थित मोटे गणेश जी का मंदिर लगभग 500 साल पुराना मंदिर हैं। मंदिर में स्थित गणेश जी की प्रतिमा राजस्थान के मेवाड़ रियासत से लाई गई हैं।बाद में मंदिर का जीर्णोद्धार जीवाजीराव सिंधिया ने करवाया था।

शिंदे की छावनी स्थित मंदिर को अर्जी वाले रिद्धि-सिद्धि गणेश मंदिर उपस्थित हैं। यह मंदिर 150 साल पुराना हैं। यह मंदिर लम्बे समय तक काफी छोटा था बाद में मंदिर के महंत ने इसके जीर्णोद्धार कराया और जयपुरसे आए कारीगरों ने मंदिर में कांच का काम किया।

खासगी बाजार स्थित मोटे गणेश जी का मंदिर 300 साल पुराना है। इस मंदिर में जो प्रतिमा हैं वह स्वयं प्रकट हुई है।


Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top