Home > धर्म > धर्म दर्शन > जन्माष्टमी पर्व : श्रीकृष्ण जन्म के साथ ही वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच होगा शंखनाद, योगी सरकार की ये है खास तैयारी

जन्माष्टमी पर्व : श्रीकृष्ण जन्म के साथ ही वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच होगा शंखनाद, योगी सरकार की ये है खास तैयारी

जन्माष्टमी पर्व : श्रीकृष्ण जन्म के साथ ही वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच होगा शंखनाद, योगी सरकार की ये है खास तैयारीFile Photo

अगर आप इस बार श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर मथुरा आ रहे है तो आप अलग अनुभव लेकर यहां से जाएंगे। मंदिरों की आकर्षक सजावट, चैराहों पर ढोल नगाड़ों से आपका स्वागत, देश भर की कला संस्कृतियों से आपका यहां परिचय होगा। बनारस की तर्ज पर मध्यरात्रि भगवान श्रीकृष्ण के जन्म के साथ ही वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ शंखनाद होगा। इसके लिए संस्कृत के छात्रों को विशेष रूप से बुलाया जा रहा है।

इस बार श्रीकृष्ण का जन्म के उत्सव की धूम अंतर्राष्ट्रीय स्तर भी मचेगी। योगी सरकार इस उत्सव को खास बनाने जा रही है। 23, 24 एवं 25 अगस्त को ये उत्सव मनाया जाएगा। वृंदावन में मां वैष्णो देवी मंदिर के बगल में स्थित लगभग 12 एकड़ भूमि पर 23, 24 व 25 अगस्त तक तीन दिवसीय विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। उक्त तिथियों में प्रतिदिन सायं काल किसी प्रमुख धर्म गुरु कथावाचक द्वारा 1 घंटे का प्रवचन किसी ख्याति प्राप्त भजन गायन द्वारा भजन प्रस्तुति का 1 घंटे का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

श्री कृष्ण जन्माष्टमी के दिन रात्रि 12 बजे 5 मिनट तक आयोजन स्थल एवं सभी मंदिरों तथा घरों में भी सामूहिक रूप से शंखनाद, घंटा, घडियाल की ध्वनि की जाएगी। आयोजन स्थल एवं सभी मंदिरों तथा घरों में ब्रज क्षेत्र के सभी प्रमुख मंदिरों की सजावट एवं प्रकाश व्यवस्था संबंधित मंदिर के प्रबंधक द्वारा की जाएगी। 23, 24 एवं 25 अगस्त को मथुरा में विभिन्न प्रमुख चैराहों तथा मार्गों पर सजावट कार्य होंगे। आने वाले प्रमुख मार्गों पर भव्य प्रवेश द्वारों का निर्माण एवं मार्गों पर विद्युत सजावट तथा प्रमुख घाटों की सजावट कार्य उत्तर प्रदेश विकास परिषद द्वारा कराया जाएगा। जिसमें प्रमुख स्थानों पर झांकियों का प्रदर्शन तथा ढोल नगाड़े पर सांस्कृतिक कार्यक्रम संस्कृति विभाग के माध्यम से कराए जायेंगे। प्रेम मंदिर वृंदावन द्वारा अवगत कराया गया कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए मंदिर में प्रात 8.30 बजे से 12 बजे तक खुला रहता है, जिसमें रासलीला का आयोजन कराया जाता है। कैबिनेट मंत्री चैधरी लक्ष्मी नारायण ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की परिकल्पना के अनुसार श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का आयोजन उच्च स्तर पर किया जाए ताकि इसको राष्ट्रीय ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्धि मिले।

उन्होंने उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद के उपाध्यक्ष को निर्देशित करते हुए कहा कि वृंदावन में टूरिस्ट फैसिलिटी सेंटर का संचालन ठीक-ठाक से सुचारू हो जिस पर जन सुविधाओं के साथ-साथ पार्किंग की भी अच्छी व्यवस्था हो। बहार से आने वाली बसों को प्राथमिकता के आधार पर पार्किंग में खड़ा कराया जाए।

बैठक में प्रमुख सचिव पर्यटन जितेंद्र कुमार, ब्रज तीर्थ विकास परिषद के उपाध्यक्ष शैलजा कांत मिश्र, जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर, मुख्य विकास अधिकारी राम निवास, एमबीडीए उपाध्यक्ष, मुख्य कार्यपालक अधिकारी नगेंद्र सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन सतीश कुमार त्रिपाठी, एसपी ट्रैफिक बृजेश कुमार, एसपी सुरक्षा ज्ञानेंद्र कुमार, उपनिदेशक पर्यटन प्रीति सिंह, उपनिदेशक मनोरंजन कर अमित सिंह, पर्यटन अधिकारी डीके शर्मा एवं संबंधित विभागों के जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Tags:    

Swadesh News ( 307 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Share it
Top