Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > बाबा साहेब का उद्देश्य वर्ग संघर्ष नहीं, सबको समान हक दिलाना था : मनोज तिवारी

बाबा साहेब का उद्देश्य वर्ग संघर्ष नहीं, सबको समान हक दिलाना था : मनोज तिवारी

-भाजपा ने मंडलस्तर पर मनाई डॉ आंबेडकर की 128वीं जयंती

बाबा साहेब का उद्देश्य वर्ग संघर्ष नहीं, सबको समान हक दिलाना था : मनोज तिवारी

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने रविवार को मंडलस्तर पर भारत रत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर की 128वीं जयंती मनाई। इन कार्यक्रमों में केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, विजय गोयल और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के अलावा सांसदों, विधायकों, प्रदेश पदाधिकारियों, जिलाध्यक्षों, पार्षदों और मंडल अध्यक्ष शामिल हुए। सभी ने आंबेडकर के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। इस अवसर पर तिवारी ने कहा कि आजकल कुछ पार्टियां बाबा साहेब के विचारों को तोड़-मरोड़ कर पेश कर रही हैं। बाबा साहेब का उद्देश्य वर्ग संघर्ष नहीं, बल्कि सामाजिक समरसता, समन्वयक राजनीति, सामाजिक और शैक्षिक रूप से सबको समान हक दिलाना था।

भाजपा नेता तिवारी ने कहा, बाबा साहेब ने इसके लिए प्रयास किया। बाबा साहेब का मत था कि देश में जो भी अवसर हैं, उस पर सभी का हक है। यहां सबको समान रूप से सुअवसर मिलना चाहिए। इसके लिए बाबा साहेब ने जीवन भर प्रयास किया।

चांदनी चौक में केंद्रीय मंत्री व सांसद डॉ. हर्षवर्धन ने, भाजपा के केन्द्रीय कार्यालय में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व दिल्ली प्रभारी श्याम जाजू, केन्द्रीयमंत्री विजय गोयल, नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता एवं प्रदेश संगठन महामंत्री सिद्धार्थन ने बाबा साहेब की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें याद किया। पूर्वी दिल्ली में राष्ट्रीय मंत्री व सांसद महेश गिरी, नई दिल्ली में सांसद मीनाक्षी लेखी, पश्चिमी दिल्ली में सांसद प्रवेश वर्मा, दक्षिणी दिल्ली में सांसद रमेश बिधूड़ी और उत्तर-पश्चिमी दिल्ली में सांसद डॉ. उदित राज, प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल ने कल्याणपुरी में, रविन्द्र गुप्ता ने अम्बेडकर भवन में, राजेश भाटिया ने करोल बाग की वाल्मीकि बस्ती में और पवन शर्मा ने उत्तम नगर में आंबेडकर को प्रतिमा में फूल अर्पित किए।

Tags:    

Swadesh Digital ( 8067 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top