Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > इंदौर फिर हुआ शर्मसार, एक साल की मासूम के साथ दरिंदगी

इंदौर फिर हुआ शर्मसार, एक साल की मासूम के साथ दरिंदगी

इंदौर फिर हुआ शर्मसार, एक साल की मासूम के साथ दरिंदगी

इंदौर/स्वदेश वेब डेस्क। शहर में पिछले दिनों राजवाड़ा क्षेत्र में एक दूधमुंही बालिका की दुष्कर्म के बाद हत्या करने की घटना से शर्मसार हुआ था कि शहर उस घटना को पूरी तरह भूला भी नहीं था कि 28 सितंबर की रात फिर ऐसा ही एक मामला सामने आया, जिसमें अपने माता-पिता के पास सो रही दो मासूम बहनों को दरिंदा उठा ले गया और एक साल की बालिका को अपनी हवस का शिकार बना डाला। मामले मेें पुलिस ने यहीं के एक संदिग्ध मजदूर को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ शुरू कर दी है।

घटना रात 1:30 से 2:30 बजे के बीच की बताई गई है। नावेल्टी मार्केट के समीप दमोह में रहने वाला एक युवक अपनी पत्नी और बच्चों के साथ चौकीदारी करता है। यहां निर्माणाधीन मल्टी की पहली मंजिल पर वह रहता है। कल जब वह खाना खाकर परिवार के साथ सो गया, तभी दरिंदा यहां घुस आया। माता-पिता के पास सो रही पांच और एक साल की दोनों मासूम बहनों को उठाकर पहली मंजिल पर ले आया। यहां एक साल की मासूम बच्ची को उसने निर्वस्त्र कर अपनी हवस का शिकार बनाया। वहीं बड़ी बहन के भी कपड़े उतार दिए थे।

रोती हुई पहुंची बड़ी बहन

घटना की जानकारी उस समय लगी जब पांच साल की मासूम बच्ची बिलखते हुए अपने माता-पिता के पास पहुंची और पूरी कहानी बताई। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। जिस बिल्डिंग मेंं चौकीदार दंपत्ति रहता है, ऊपर मंजिल पर बबलू नामक मजदूर भी सोता है। संभवत: उसी ने इस दरिंदगी की घटना को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। दोनों बच्चियों को मेडिकल के लिए एमवाय अस्पताल पहुंचाया गया है।

कांग्रेस भी पहुंचे एमवाय अस्पताल

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस वरिष्ठ अधिकारियों ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और जांच की बात कही। वहीं एसपी पूर्व अवधेश गोस्वामी अस्पताल पहुंचे और डॉक्टरों से बच्ची के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उधर, राऊ के कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी अपने समर्थकों के साथ और शहर कांग्रेस नेताओं ने भी अस्पताल जाकर डॉक्टरों से बात की। कांग्रेसियों ने शहर में मासूम बच्चियों के साथ लगातार हो रही इस तरह की घटनाओं को लेकर अपना विरोध भी दर्ज कराया।

Tags:    

Swadesh News ( 6285 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top