Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > रेलवे अधिकारियों पर भारी पड़ा स्टैण्ड ठेकेदार, नहीं हटाए वाहन

रेलवे अधिकारियों पर भारी पड़ा स्टैण्ड ठेकेदार, नहीं हटाए वाहन

रेलवे स्टेशनों पर साइकिल स्टैंडों की ज्यादा बोली लगाकर ठेका हासिल करने वाले ठेकेदार लागत न निकलते देख ठेका छोड़कर भागने लगे हैं।

रेलवे अधिकारियों पर भारी पड़ा स्टैण्ड ठेकेदार, नहीं हटाए वाहन

एक स्टैण्ड को किया बंद, आरपीएफ की मांगी मदद

ग्वालियर | रेलवे स्टेशनों पर साइकिल स्टैंडों की ज्यादा बोली लगाकर ठेका हासिल करने वाले ठेकेदार लागत न निकलते देख ठेका छोड़कर भागने लगे हैं। कुछ ऐसा ही हाल ग्वालियर रेलवे स्टेशन का है। हालत यह है कि रेलवे स्टेशन की एक पार्किंग को रेलवे ने बंद ही कर दिया है। साथ ही प्लेटफार्म क्रमांक एक के बाहर बनी पार्किंग को भी आधा बंद कर दिया है। रेलवे ने कार पार्किंग का ठेका लक्ष्मण स्वर्णकार को दिया है, लेकिन ठेकेदार अपनी मनमानी करते हुए कार पार्किंग में मोटरसाइकिल खड़ी करवा रहा है।

जिसके चलते दो पहिया वाहन पार्किंग के ठेकेदार नया ठेका लेने को तैयार नहीं है। दो पहिया वाहन पार्किंग के ठेकेदारों का कहना है कि जब तक चार पहिया वाहन पार्किंग से दो पहिया पार्किंग नहीं खत्म नहीं होगी, तब तक वह ठेका नहीं लेंगे। उधर स्टेशन डायरेक्टर दीपक चौबे ने बीते रोज स्टैंड संचालक को साफ शब्दों में कह दिया था कि दो पहिया वाहनों को तुंरत हटाया जाए। लेकिन ठेकेदार ने रेलवे अधिकारियों के आदेशों को हवा में उड़ाते हुए दो पहिया वाहनों को नहीं हटाया। उधर इस मामले की जानकारी झांसी तक जा पहुंची है, जिसको लेकर अब स्थानीय अधिकारियों के साथ चर्चा कर उचित कार्रवाई करने की तैयारी की जा रही है।

एक दूसरे पर टाल रहे अधिकारी

सूत्रों की मानें तो ठेकेदार पर स्थानीय अधिकारियों की मेहरबानी भी शुरू से ही बनी हुई है। जिसके चलते ठेकेदारों के हौसले हमेशा से बुलंद रहे हैं। जिसके चलते वरिष्ठ स्थानीय अधिकारी चाहते हुए भी कुछ नहीं कर पा रहे है।


Swadesh Digital ( 9575 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top