Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > एक घण्टे तक थमी रहीं शहरवासियों की सांसें

एक घण्टे तक थमी रहीं शहरवासियों की सांसें

एक घण्टे तक थमी रहीं शहरवासियों की सांसें

मोदी बोले तब मिली राहत

ग्वालियर/न.सं.। आठ नवंबर 2016 की रात आठ बजे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब देश में नोटबंदी लागू कर ऐतिहासिक निर्णय लिया था, तब राष्ट्र ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय जगत में कोहराम मच गया था। नोटबंदी को विपक्षी दलों ने आम आदमी की कमर तोड़ना बताया था। उस रात को लोग आज तक नहीं भूले हैं और जैसे ही मोदी का कोई संबोधन ''भाईयों एवं बहनों '' के साथ शुरू होता है तो लोगों के दिलों की धडक़न रूक सी जाती है। ऐसा ही कुछ बुधवार को सुबह 11 बजे के बाद देखने को मिला जब ट्विटर और सोशल मीडिया से यह पता लगा कि दोपहर 12 बजे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी टीवी पर लाइव आने वाले हैं। इस आधा-एक घण्टे के दौरान लोगों के जेहन में कुछ अलग तरह का सवाल था कि वे क्या कहने जा रहे हैं।

शहर में तमाम लोग टीवी पर आँख गड़ाए बैठकर भगवान से प्रार्थना कर रहे थे कि मोदी जी कुछ अच्छा ही करेंगे। इसके बाद श्री मोदी ने अंतरिक्ष में सेटेलाइट स्थापित करने की बात कहते हुए देश को दुनिया के चौथे नंबर पर आना बताया, तब प्रत्येक व्यक्ति का सीना शान से फूल गया। स्वदेश ने इस दौरान बीते क्षणों को लेकर शहर के चुनिंदा लोगों से बात की है।

इनका कहना है

आधा घंटे टीवी पर चिपके रहे


पहले तो बहुत डर लगा कि मोदी जी आज क्या बोलने वाले हैं। जब सुना कि मोदी जी सेटेलाइट के बारे में बता रहे हैं तब जान में जान आई। कुछ समय तो सांसे अटकी सी रहीं। मोदी जी ने देश का नाम अंतरिक्ष के इतिहास में दर्ज करा दिया है।

-जागृति कौशिक, महिला उद्यमी

भाषण सुनकर मन हुआ शांत


जब यह सुना कि प्रधानमंत्री मोदी जी आज टीवी पर आने वाले और कुछ बोलने वाले हैं तो कुछ बैचेनी जरूर हुई। मगर लगा कि मोदी जी एयर स्ट्राइक के बारे में कुछ खुलासा करने वाले हैं। जब मोदी जी ने अपनी बात रखना शुरू की तो मन शांत हो गया और डर भी खत्म हो गया। देश के लिए अंतरिक्ष में सेटेलाइट की उपलब्धि बहुत ही खास है।

-अजय गोयल, उद्यमी

मोदी ने दिलाई नोटबंदी की याद


प्रधानमंत्री मोदी जी के बोलने से पूर्व नोटबंदी का दौर याद आ गया। काफी देर तो बड़ा अजीब सा लगने लगा। मोदी जी की बात को सुनकर मन तो शांत हुआ ही, साथ यह भी खुशी हुई कि अंतरिक्ष में हमने विश्व में चौथा स्थान प्राप्त कर लिया है।

-डॉ. वंदना शर्मा, अध्यक्ष, सामाजिक संस्था

मोदी ने देश का मान बढ़ाया


चुनावी दौर चल रहा है तो नोटबंदी जैसी कोई बात होनी ही नहीं थी। हमें तो लगा था कि मोदी जी राष्ट्रहित के लिए ही कुछ बोलने वाले हैंं। राष्ट्रहित के लिए अंतरिक्ष में सेटेलाइट की स्थापना बहुत बड़ी उपलब्धि है।

-अरविन्द कुमार मिश्रा, प्रदेश मंत्री, भारतीय मजदूर संघ

विश्व पटल पर बढ़ी देश की ताकत


सुबह ऐसी सूचना मिली कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को संबोधित करने वाले हैं। ऐसा सुनकर 8 नवंबर की याद ताजा हो गई, जब उन्होंने अचानक नोटबंदी करने का फैसला करके सबको चौंका दिया था। प्रधानमंत्री जी ने आज जो देश को बताया उससे निश्चित रूप से देश की ताकत विश्व पटल पर बढ़ी है। हम उन चार देशों में शुमार हो गए हैं, जो किसी भी देश के सेटेलाइट सिस्टम को नष्ट कर सकता है। यह हम सबके लिए गर्व का विषय है।

-विपिन राजपूत, युवा व्यवसायी

Naveen ( 1696 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top