Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > नौ दशक में पहली बार ग्वालियर में होगी संघ की अ.भा. प्रतिनिधि सभा की बैठक

नौ दशक में पहली बार ग्वालियर में होगी संघ की अ.भा. प्रतिनिधि सभा की बैठक

नौ दशक में पहली बार ग्वालियर में होगी संघ की अ.भा. प्रतिनिधि सभा की बैठक

आयोजन के लिए तैयारियां अंतिम चरण में

ग्वालियर, विशेष प्रतिनिधि

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा संघ के नौ दशक के इतिहास में ग्वालियर में पहली बार हो रही है। बैठक आगामी 8 से 10 मार्च तक शिवपुरी लिंक रोड स्थित केदारधाम परिसर में होगी। बैठक को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में प्रवेश कर रही हैं।

उल्लेखनीय है कि संघ की प्रतिनिधि सभा एक सर्वोच्च बैठक है, जिसमें केन्द्र से लेकर विभाग स्तर के अपेक्षित प्रचारक एवं कार्यवाह अन्य पदाधिकारी तथा निर्वाचित प्रतिनिधि भाग लेते हैं। वर्ष में एक बार यह बैठक मार्च माह में होती है। हर तीसरे वर्ष निर्वाचन वर्ष में यह बैठक नागपुर मुख्यालय में होती है। शेष दो वर्ष में एक बार उत्तर भारत और एक बार दक्षिण भारत में यह बैठक होती है। संघ के 93वें वर्ष के इतिहास में ग्वालियर में यह बैठक पहली बार है, जिसको लेकर मध्य भारत प्रांत मेें विशेषकर ग्वालियर अंचल में संघ कार्यकर्ताओं में जबर्दस्त उत्साह है। बैठक के लिए एक विशाल डोम बनाया जा रहा है। इसके पास में ही भोजन कक्ष बनाया जा रहा है। इन दोनों स्थानों को गोबर से लीपकर शुद्धिकरण का कार्य किया जा रहा है। आयोजन में लगभग 2000 लोगों के भोजन की व्यवस्था रहेगी। आवास की व्यवस्था सरस्वती शिशु मंदिर, सेवा भारती छात्रावास एवं जीआईसीटी कॉलेज में की जा रही है। बैठक परिसर राष्ट्रीयता के भाव से ओतप्रोत है, साथ ही ग्राम्य भारत की भी इसमें झलक मिलेगी। आयोजन स्थल पर प्रदर्शनी भी लगाई जाएंगी, जिनमें ग्वालियर चम्बल गौरव दर्शन, कृति रूप दर्शन, ग्वालियर में संघ की यात्रा की जानकारी चित्रों के माध्यम से दी जाएगी। देश भर से आने वाले प्रतिनिधियों के आवास की विशेष व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए अलग से अस्थाई शौचालय एवं स्नानघर भी बनाए गए हैं। संघ कार्यकर्ता इस आयोजन को सफल बनाने के लिए प्राणपण से जुटे हुए हैं।

कड़ी सुरक्षा के इंतजाम: वहीं पुलिस एवं प्रशासन की ओर से परिसर की सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं। इसके लिए एसपीजी एवं पुलिसबल तैनात है। जो चप्पे-चप्पे पर नजर रखे हुए है।

छत्रपति शिवाजी महाराज सहित महापुरुषों की लगेंगी प्रतिमाएं


आयोजन स्थल पर छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा के अलावा अन्य कई महापुरुषों की प्रतिमाएं भी ससम्मान रखी जाएंगी। इसके लिए इन प्रतिमाओं को सजाया संवारा जा रहा है।

Naveen ( 1446 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top