Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > फुटओवर ब्रिज का लोकार्पण करने पहुंचे विधायक गोयल, दिल्ली से निगमायुक्त ने फोन कर रोका

फुटओवर ब्रिज का लोकार्पण करने पहुंचे विधायक गोयल, दिल्ली से निगमायुक्त ने फोन कर रोका

बोले-सिंधिया करेंगे फुटओवर ब्रिज का उद्घाटन

फुटओवर ब्रिज का लोकार्पण करने पहुंचे विधायक गोयल, दिल्ली से निगमायुक्त ने फोन कर रोका

ग्वालियर। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर में अब इतना सक्रिय हो गए है कि मंत्री एवं विधायकों को किसी विकास कार्य का लोकर्पण एवं भूमिपूजन से रोका जा रहा है। वे अब 28 नवम्बर को पुन: ग्वालियर आ रहे है। इस दौरान वह 30 करोड़ की लागत से बने मोतीमहल स्थित स्मार्ट सिटी के सबसे बड़े प्रोजेक्ट कंट्रोल कमांड सेंटर सहित पुराना हाईकोर्ट स्थित मैकेनाइज्ड पार्किंग का लोकार्पण करेंगे। इन दोनों आयोजनों का विधिवत कार्यक्रम तय हो गया है। जबकि जिस लोकार्पण के लिए शुक्रवार की सुबह विधायक मुन्नालाल गोयल को रोका गया वह आयोजन इस कार्यक्रम में नहीं आया है। समझा जाता है कि संशोधित कार्यक्रम में इसे भी शािमल कर लिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव में पराजय के बाद श्री सिंधिया का ध्यान गुना शिवपुरी की बजाय ग्वालियर क्षेत्र में ज्यादा है। वे बार-बार ग्वालियर आ रहे है और नेताओं एवं शहर के बुद्धजनों के घर जा रहे है। इतना ही नहीं कार्यकर्ताओं के साथ भोजन और चाय भी ले रहे है। इस बीच ग्वालियर पूर्व के विधायक मुन्नालाल गोयल अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत शुक्रवार की सुबह 10 बजे गोले का मंदिर स्थित 50 लाख रुपए की लागत से बने फुटओवर ब्रिज का लोकार्पण करने पहुंचे। इसके लिए टेंट, तम्बू और फीता सहित सब कुछ तैयार था। उनके साथ समर्थक भी बड़ी संख्या में वहां जमा थे। इस बीच दिल्ली प्रवास पर गए निगमायुक्त संदीप माकिन ने मोबाइल पर श्री गोयल को फुटओवर ब्रिज का लोकार्पण करने से रोक दिया। श्री माकिन ने उनसे कहा कि आप यह लोकार्पण नहीं करें। इसका लोकार्पण 28 नवम्बर को श्री सिंधिया करेंगे। ऐसा सुन श्री गोयल अवाक रह गए उनकी फीता काटने की मंशा धरी की धरी रह गई। उनके चेहरे पर मायूसी छा गई कि बताओं इस काम को भी अब सिंधिया करेंगे। जिसे उनके साथ मौजूद कार्यकर्ताओं ने भी सुना और महसूस किया। किंतु मामला सीधे सिंधिया का होने का कारण इन सभी को वहां से बेरंग लौटना पड़ा। इस दौरान उनके साथ शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ देवेन्द्र शर्मा, अभिभाषक अतिसुंदर सिंह, पूर्व जनपद अध्यक्ष बैजनाथ सिंह घुरैया आदि थे। जो निराश होकर गोले का मंदिर से सीधे आकशवाणी चौराहे स्थित झलकारी बाई के कार्यक्रम में जा पहुंचे।

यह है सिंधिया का कार्यक्रम

28 नवम्बर को पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया दिल्ली से ग्वालियर शताब्दी एक्सप्रेस से सुबह आएंगे। इसके वे 11 बजे एमआईटीएम की बैठक लेने के बाद नरवर पहुंचकर पावर स्टेशन की आधार शिला रखेंगे। शाम 5.15 मिनट पर वे जयारोग्य चिकित्सालय का निरीक्षण और चिकित्सकों के साथ बैठक करेंगे। शाम 6.10 मिनट पर मैकेनाइज्ड पार्किंग एवं 6.45 बजे मोतीमहल स्थित कंट्रोल का उद्घाटन करेंगे। देर शाम श्री सिंधिया शताब्दी एक्सप्रेस से दिल्ली रवाना होंगे।

Tags:    

Swadesh News ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Share it
Top