Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना का पुलिस ने चौबीस घंटे में किया पर्दाफाश

इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना का पुलिस ने चौबीस घंटे में किया पर्दाफाश

शहर के जनमानस को झकझोर देने वाली घटना का आरोपी दरिंदा पुलिस ने चौबीस घंटे पकड़कर सफलता अर्जित की है।

इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना का पुलिस ने चौबीस घंटे में किया पर्दाफाश

दुष्कर्मी गिरफ्तार बिन बुलाए मेहमान बनकर विवाह में पहुंचा

ग्वालियर | शहर के जनमानस को झकझोर देने वाली घटना का आरोपी दरिंदा पुलिस ने चौबीस घंटे पकड़कर सफलता अर्जित की है। दरिंदा विवाह समारोह में बिन बुलाए मेहमान बनकर पहुंचा था। आरोपी ने मासूम के साथ उस समय दरिंदगी कर दी थी जब वह पानी पीने के लिए पंडाल से बाहर आई थी। पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने जानकारी देते हुए बताया कि कम्पू थाना क्षेत्र स्थित न्यू विवेक नगर में सामुदायिक भवन में आयोजित विवाह समारोह में मासूम बच्ची को बहला फुसलाकर अपने साथ ले जाकर दरिंदगी करने वाले दरिंदे जीतू उर्फ जितेन्द्र कुशवाह को गिरफ्तार कर लिया है। जीतू मांढरे की माता के पीछे टपरे में रहता है।

पुलिस के अनुसार जीतू कुशवाह बुधवार की रात को विवाह समारोह में बिन बुलाया मेहमान बनकर पहुंंचा था। जब बच्ची पानी पीने के लिए पंडाल के बाहर आई तभी दरिंदे की उसपर नजर पड़ गई। दरिंदा मासूम को भाई बाहर खड़े होने का झांसा देकर अंधेरे में अपने साथ ले गया था। मासूम जैसे ही दरिंदे के चंगुल में आई उसे वह बहला-फुसलाकर अपने साथ सूनसान पहाड़ी पर जबरदस्ती ले गया। मासूम के साथ दरिंदगी करने के बाद जितेन्द्र कुशवाह पुन: विवाह समारोह में पहुंचा और फिर बाद में देर रात घर जाकर सो गया था। पुलिस घटना के बाद से आरोपी को पकडऩे के लिए जी जान से जुटी थी। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने जितेन्द्र को पकड़कर पूछताछ की, आरोपी दरिंदे ने घटना को करना स्वीकार कर लिया। पुलिस आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड निकालकर उससे अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ कर रही है। में पहुंचा

दरिंदे को फांसी की सजा हो या फिर हमें सौंपे : पीडि़ता का पिता

मासूम के पिता ने कहा कि दरिंदे जितेन्द्र को जल्दी से जल्दी फांसी की सजा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस यदि आरोपी को सजा नहीं दिला सकती तो उसे हमारे सुपुर्द करें हम उसे सजा देंगे। मेरे परिवार को जो दर्द दरिंदे ने दिया है उसको भुला पाना संभव नहीं है। आरोपी को जितनी जल्दी हो सजा हो।

आरोपी को पकडऩे में सीसीटीवी से मिली मदद

न्यू विवेक नगर में रहने वाले डॉक्टर के घर लगे सीसीटीवी कैमरे में आरोपी के फुटेज कैद हो गए थे। पुलिस को जैसे ही फुटेज मिले तत्काल टीमें आरोपी की तलाश में आसपास फैल गईं। फुटेज मिलने से पुलिस को आरोपी को पकडऩे में काफी मदद मिली।

जितेन्द्र का प्रोफाइल

जीतू उर्फ जितेन्द्र कुशवाह मांढरे की माता के पास झोपड़ी में परिवार के साथ रहता है। जीतू कटोरा ताल के पास बर्फ के गोले का ठेला लगाता है। पुलिस ने बताया कि आरोपी के परिवार में पिता बेरोजगार और नशेड़ी है। जीतू दिन में अवारागर्दी करता है उसकी वहां रहने वाले अपराधिक प्रवृत्ति के युवकों से दोस्ती है।

पहले गला किया था तर

बताया गया है कि दरिंदे जितेन्द्र ने मासूम को अपने साथ ले जाने से पहले नशा किया था। जब उसको नशा हो गया तो वह विवाह समारोह में पहुंचा और पहले खाना खाया। उसके बाद मासूम को अपने साथ बुलाकर ले गया था। वह विवाह समारोह में बेखौफ होकर बाद में भी पहुंंच गया था।

ऐसे दिया घटना को अंजाम

पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने जानकारी देते हुए बताया कि जितेन्द्र ने मासूम को भाई बाहर खड़े होने का झांसा दिया और विवाह समारोह से बाहर ले गया था। एक बार मासूम उसके पास से भाग गई थी, उसी बीच उसने मासूम को बहलाया और अंधेरे की ओर ले जाने में सफल हो गया था।

दस हजार का इनाम था

दिल दहला देने वाली घटना के बाद पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने आरोपी पर दस हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया था। आरोपी को तलाशने के लिए शहर की पुलिस दिन रात लगी रही और उसे सफलता मिल गई। ''आरोपी से अन्य पहलुओं पर पूछताछ की जा रही है, आपराधिक रिकॉर्ड भी दिखवाया जा रहा है। कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए पुलिस डायरी को जल्दी ही तैयार करेगी।"

नवनीत भसीन, पुलिस अधीक्षक




Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top