Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > देश के लिए शहीद हो जाने वाले जांबाजों का बलिदान हमें प्रेरणा देता है : आईजी यादव

देश के लिए शहीद हो जाने वाले जांबाजों का बलिदान हमें प्रेरणा देता है : आईजी यादव

कैप्टन उपमन्यु सिंह को शहर के लोगों दी श्रद्धांजलि, आईजी अंशुमन यादव सहित कई गणमान्य अतिथि पहुंचे नमन करने , सात दिसंबर 2010 को कश्मीर के सोपोर में शहीद हुए थे कैप्टन उपमन्यु सिंह

देश के लिए शहीद हो जाने वाले जांबाजों का बलिदान हमें प्रेरणा देता है : आईजी यादव

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। "शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले, वतन पर मिटने वालों का यही बाकी निशां होगा" शहीदों को समर्पित एक गीत की ये लाइनें आज शहीद कैप्टन उपमन्यु सिंह पार्क में मौजूद सभी की जुबां और जेहन में चल रहीं थी। अवसर था शहीद कैप्टन उपमन्यु सिंह की शाहदत को याद करने का। सात दिसंबर 2010 को ग्वालियर के सपूत कैप्टन उपमन्यु सिंह ने उस समय अपने प्राण देश पर न्योछावर कर दिये थे जब कश्मीर के सोपोर में उनका दुश्मन से आमना सामना हो गया था।

कैप्टन उपमन्यु सिंह की याद में हर साल की तरह आज भी एक श्रद्धांजलि कार्यक्रम आयोजित किया गया। शहीद की याद में बनाये गए कैप्टन उपमन्यु सिंह पार्क में आयोजित कार्यक्रम में ग्वालियर जोन के पुलिस महानिरीक्षक अंशुमन यादव विशेष रूप से मौजूद थे। शुरुआत में कैप्टन उपमन्यु सिंह की मां सुमन सिंह, आईजी अंशुमन सिंह सहित अन्य अतिथियों ने शहीद उपमन्यु सिंह के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उनकी शाहदत को याद किया। अपने सम्बोधन में आईजी यादव ने कहा कि देश के लिए प्राण न्योछावर करने वालों का बलिदान कभी खाली नहीं जाता ये हमें प्रेरणा देता है। शहीद उपमन्यु सिंह की मां सुमन सिंह ने कहा कि भले ही आज उनका बेटा उनके पास नहीं है लेकिन उसका बलिदान देशवासियों को हमेशा याद रहेगा , मैं ऐसे बेटे की मां होने पर गर्व महसूस करती हूँ।

कार्यक्रम के प्रारम्भ में कैप्टन उपमन्यु सिंह स्मृति सेवा संस्थान के सचिव डॉ. प्रवीण अग्रवाल ने बताया कि 22 रायफल रेजिमेंट में पदस्थ कैप्टन उपमन्यु सिंह को सात दिसंबर 2010 को सूचना मिली कि कश्मीर के सोपोर में एक मकान में आतंकवादी घुस गए हैं और उनकी टुकड़ी वहां फंस गई है। उपमन्यु सिंह बिना समय गंवाए वहां पहुंचे और आतंकवादियों को ललकारा। उन्होंने अपनी टुकड़ी को कवर करते हुए बाहर निकाल लिया लेकिन तभी दुश्मन की एक गोली उनके सीने में आकर धंस गई और उन्होंने देश के लिए अपने प्राण दे दिए।

कार्यक्रम में शहीद उपमन्यु के नाना मोहन लाल, भाई उदयन सिंह, सैनिक कल्याण बोर्ड के कैप्टन पालीवाल समाजसेवी सुधीर सप्रा, एडवोकेट मुकेश शर्मा, कृष्णबिहारी गोयल, दिनेश जैन, गगन तिवारी सहित बड़ी संख्या में शहरवासी उपस्थित थे।

Tags:    

Swadesh News ( 5179 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top