Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > अनुशासन की पाठशाला है विद्यार्थी परिषद

अनुशासन की पाठशाला है विद्यार्थी परिषद

अभाविप के स्थापना दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन, महानगर कार्यकारिणी का गठन

अनुशासन की पाठशाला है विद्यार्थी परिषद

ग्वालियर न.सं.। विद्यार्थी परिषद अनुशासन की पाठशाला है। इसमें छात्र अनुशासित होकर कार्य करता है। हम सबको भी अनुशासन में रहकर कार्य करना होगा। उक्त विचार साइंस कॉलेज के जनभागीदारी समिति अध्यक्ष डॉ. उमाशंकर पचौरी ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 70वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में कही।

मुख्य वक्ता के रूप में मौजूद विभाग प्रमुख डॉ. नीतेश शर्मा ने कहा कि कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक विद्यार्थी परिषद है। विद्यार्थी ही समाज की रीड़ की हड्डी है। यदि विद्यार्थी काल से ही हम राष्ट्रवादी विचार रखते हैं और देश के प्रति समर्पित रहते हैं तो हमारा जीवन धन्य है। अपना पूरा जीवन समाज एवं राष्ट्र के लिए समर्पित कर दे वह परिषद का सच्चा कार्यकर्ता है। कार्यक्रम के दौरान निर्वाचन अधिकारी मलखान शर्मा ने महानगर की कार्यकारिणी की घोषणा की। जिसमें महानगर अध्यक्ष गौरी प्रिया को एवं महानगर मंत्री पुन: गौरव मिश्रा को बनाया गया। इसके साथ प्रतीक शर्मा को पुन: महानगर सहमंत्री बनाया गया। इसके अलावा अन्य 6 लोगों को भी सहमंत्री बनाया गया है। साथ ही मलखान शर्मा, त्रिष्टुव चंसौलिया, पियूष तांबे, केके शर्मा एवं राजकुमार को उपाध्यक्ष बनाया है। नीतराज शर्मा को संगीत विवि, केतन शर्मा को जीवाजी विवि, अभिषेक यादव को कृषि विवि एवं अभिषेकसिंह को एलएनआईपीई का प्रमुख बनाया गया है। इसके अलावा अन्य कार्यकारिणी भी घोषित की गई है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top