Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > आरोपी को 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल

आरोपी को 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल

मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी करने के बाद उसकी हत्या करने वाले आरोपी को 15 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

आरोपी को 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल

जेल में अलग सेल में रखा जाएगा जितेन्द्र को मामला मासूम के साथ दरिंदगी का

ग्वालियर | मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी करने के बाद उसकी हत्या करने वाले आरोपी को 15 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से आरोपी को जेल के अंदर अलग सेल में रखा जाएगा। शहर की जनता में दरिंदगी करने वाले आरोपी के खिलाफ जबर्रदस्त आक्रोश है। न्यायालय से आरोपी को भारी पुलिस बल के साथ जेल तक ले जाया गया।

कम्पू थाना क्षेत्र में छह वर्षीय मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी करने वाले आरोपी जितेन्द्र कुशवाह को रविवार को विशेष न्यायालय की न्यायाधीश मेघा अग्रवाल के समक्ष पेश किया गया, जहां से आरोपी को छह जुलाई तक के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। बताया गया है कि जितेन्द्र को जिस समय न्यायालय में पेश किया गया, उस समय न्यायालय परिसर पुलिस छावनी बना हुआ था। पुलिस को भी आरोपी की सुरक्षा को लेकर चिंता सता रही है। घटना के बाद से ही शहर की जनता और मासूम बच्ची के परिजन आक्रोशित हैं।

जनता आरोपी के साथ मारपीट न कर दे, इसलिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी नजर रखे हुए थे। पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमनसिंह राठौर नगर पुलिस अधीक्षक भी मिनी कंट्रोल रूम इन्दरगंज में बैठे हुए थे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी जितेन्द्र को जेल में अलग सेल में रखने के लिए जेल अधीक्षक से भी बातचीत की गई है। जितेन्द्र के साथ जेल के अंदर बंदी मारपीट न कर दें, इसलिए पुलिस अधिकारी आरोपी की सुरक्षा के लिए विशेष इंतजाम कर रहे हैं। पुलिस का दावा है कि इस मामले की चार्जशीट एक सप्ताह के भीतर न्यायालय में पेश कर दी जाएगी। उपनिरीक्षक बाबूलाल यादव का कहना है कि जितेन्द्र के वारदात के समय के कपड़े पेंट, शर्ट, जूते, जांघिया आदि बरामद कर लिए गए हैं।

फांसी की सजा की मांग कर रहे हैं परिजन

मासूम के परजिनों की मांग है कि आरोपी को जल्दी से जल्दी फांसी की सजा दिलाई जाए। शहर की जनता में भी दरिंदगी को लेकर भारी रोष है। जनता की ओर से भी आरोपी को फांसी की सजा दिलाने की मांग की जा रही है।



Swadesh Digital ( 9575 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top